जर्मनी में मासूम बेटे को एक कंसर्ट में गीत गवाना पिता को भारी पड़ गया। स्थानीय कोर्ट ने मामले में पिता को बालश्रम करवाने का दोषी मानते हुए तीन हजार यूरो (लगभग 2 लाख 64 हजार रुपए) का जुर्माना लगा दिया। बच्चे के पिता जर्मनी के प्रसिद्ध लोक गायक हैं, जो जगह-जगह स्टेज परफार्मेंस के अलावा लाइव कंसर्ट में भी हिस्सा लेते हैं। जर्मनी में 3 से 6 साल के बच्चों को लेकर काफी सख्त कानून हैं।

जानकारी के अनुसार लोक गायक एंजेलो केली (39) के साथ उनके बेटे विलियम (4) ने 2019 में एक कंसर्ट के दौरान मंच पर वाट ए वंडरफुल वल्र्ड गीत गाया था। विलियम केली की पांच संतानों में सबसे छोटा है। मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक कोर्ट ने कहा कि इस प्रदर्शन के दौरान विलियम मंच पर आधे घंटे तक खड़ा था और उसने साथ में वाद्य बजाया, गीत गाया और अपना गाना भी सुनाया।

बताया जा रहा है कि जर्मनी के युवा श्रम संरक्षण अधिनियम के तहत यह श्रम की श्रेणी में आता है। जिसके बाद लोकप्रिय गायक केली ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि वह फैसले को चुनौती देंगे। हालांकि, ऊपर की कोर्ट से भी उन्हें राहत मिलने के आसार कम हैं। क्योंकि, बिना लिखित अनुमति के 6 साल के छोटे बच्चे संगीत कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले सकते।

जर्मन कानून के अनुसार, तीन से छह वर्ष की आयु के बच्चे एक दिन में सुबह आठ से शाम पांच बजे के बीच, दो घंटे संगीत के प्रदर्शन में भाग ले सकते हैं। लेकिन इसके लिए आधिकारिक तौर पर अनुमति लेनी पड़ती है। अधिकारियों ने कहा कि विलियम रात 8 बजकर 20 मिनट तक मंच पर था। केली के वकील जूलियन एकरमैन ने अदालत के निर्णय पर आक्रोश जताया और कहा कि एक कंसर्ट में माता-पिता की उपस्थिति में बच्चे का कुछ देर के लिए मंच पर होना बाल श्रम नहीं कहा जा सकता।