हाल ही में एक मोबाइल एक्सेस टेक्नोलॉजी कंपनी Kisi ने एक स्टडी की रिपोर्ट जारी की है जिसमें 3 श्रेणियों में विश्व के 10 शहरों को सूचीबद्ध किया गया है। रिपोर्ट में बताया गया कि विश्व में वर्क लाइफ बैलेंस के हिसाब से नॉर्वे की राजधानी ओस्लो सबसे अच्छी जगह है। वहीं, इस स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया है दुबई सबसे अधिक काम करने वाले लोगों का शहर है। वर्क फ्रॉम होम के लिहाज से सिंगापुर को सबसे बेहतर बताया गया है।

यह भी पढ़ें : डॉन बॉस्को विश्वविद्यालय की "भूमि हथियाने" के आरोपों की जांच के लिए पैनल का गठन

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार इस स्टडी में वर्क इंटेंसिटी और शहर में रहने की क्षमता के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य, सस्ती रहने की लागत और पर्याप्त आराम जैसे कारकों को ध्यान में रखा गया है। 2022 में Work Life Balance के हिसाब से सर्वश्रेष्ठ 10 शहरों की सूची निकाली गई है जिसमें ओस्लो शीर्ष पर है। इस लिस्ट के पांच शीर्ष शहर हैं- ओस्लो, बर्न, हेलसिंकी, ज्यूरिख और कोपेनहेगन।

यह भी पढ़ें : Assam Boxer लवलीना बोरगोहेन IBA की एथलीट समिति के अध्यक्ष और निदेशक मंडल के सदस्य के रूप नियुक्त

ये हैं वर्क फ्रॉम होम के लिहाज से विश्व के 10 सर्वश्रेष्ठ शहर

कोविड महामारी के दौरान कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी। कर्मचारियों को भी काम करने की ये नई व्यवस्था काफी पसंद आ रही है और कोविड के बाद भी कई कंपनियां वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दे रही हैं। 2022 में वर्क फ्रॉम होम के लिहाज से सिंगापुर को सर्वश्रेष्ठ शहर बताया गया है। 10 शहरों की लिस्ट में सर्वश्रेष्ठ पांच शहर हैं- सिंगापुर, वाशिंगटन, ऑस्टिन, बर्न और ज्यूरिख।

दुबई है सबसे ज्यादा काम लेने वाला शहर

कंपनी ने अपने कर्मचारियों से सबसे अधिक काम कराने वाले 10 शहरों की लिस्ट भी जारी की है। इस लिस्ट के शीर्ष पांच शहर हैं- दुबई, हॉन्गकॉन्ग, कुआलालंपुर, सिंगापुर और मोंटेवीडियो। Kisi के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बर्नहार्ड मेहल ने कहा कि हाल के वर्षों में आई महामारी दुनियाभर के कर्मचारियों के लिए मुश्किल रहा है। कोविड महामारी के बाद अब कर्मचारियों को यूक्रेन युद्ध के दुष्परिणाम झेलने पड़ सकते हैं। आनेवाले वर्षों में कर्मचारी इसे महसूस करेंगे।