मादक पदार्थो की तस्करी रोकने के लिए सिलीगुड़ी पुलिस ने असम पुलिस से सहयोग मांगा है। डीसीपी ईस्ट गौरव लाल ने कहा की असम से बड़े पैमाने पर गाजा की तस्करी बंगाल के रास्ते बिहार के लिए की जा रही है।

इसके लिए तस्करों ने नया तरीका अपनाया है। असम पुलिस के पूर्व जवान इसमें लगे हैं।
वे वर्दी में गांजा लेकर आते हैं और कोई उनपर शक नहीं करता। कई बार पुलिस व सेना की वर्दी पहने तस्करों को गिरफ्तार भी किया गया है।

एनजेपी पुलिस ने एक पूर्व होमगार्ड गोकुल रॉय को हाल ही में पकड़ा था, जिसके पास से 46 किलो गाजा मिला था।

एक और तस्कर पूर्णेन्दु बनर्जी से भी महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं। इसी के आधार पर असम पुलिस से तस्करी रोकने के लिए सहयोग मागा जा रहा है।