सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन चामलिंग ने कहा है कि उनकी सरकार प्रतिबंधित पदार्थों के इस्तेमाल को अपराध घोषित करने वाले मौजूदा कानून में बदलाव करेगी और ऐसे मामलों को एक बीमारी के रूप में देखेगी। 

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार चामलिंग ने कल रानीपूल में आयोजित ‘तेनदोंग ल्हो रुम फात’ समारोह को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं।

उन्होंने कहा, मादक पदार्थ के तस्करों को दंड देने के लिये कानून को और कठोर बनाया जायेगा, लेकिन मादक पदार्थ के इस्तेमाल को अपराध की तरह नहीं बल्कि बीमारी की तरह लिया जायेगा, जिसके लिये उपचार या थेरेपी की आवश्कता होती है।

विज्ञप्ति के अनुसार चामलिंग ने लोगों से मादक पदार्थ के खतरों के प्रति जागरुक होने की अपील की और मादक पदार्थ लेने के आदी युवाओं को इसका उपचार कराने के लिये प्रोत्साहित किया। बता दें कि सिक्किम में एंटी ड्रग्स एक्ट 2006 के तहत अगर किसी व्यक्ति को ड्रग्स का इस्तेमाल करते हुए पकड़ा जाता है तो उसे 6 महीने की सजा या 20 हजार जुर्माना हो सकता है।