लोकसभा व विधानसभाओं के उपचुनावों समेत तीन राज्यों में चुनाव शुरू हो चुके हैं, लेकिन सिक्कित डेमोक्रेटिक फ्रंट राज्य में उपचुनावों के विरोध में उतरी हुई है। इस पार्टी का कहना है कि सिक्किम के पोलोक कामरंग विधासभा सीट पर चुनावों को टाला जाए। इसके पीछे SDF ने आरोप लगाया है कि इस सीट वाले इलाके में शांति नहीं है। इस बात को लेकर SDF उपचुनावों का पिछले चार हफ्तों से विरोध कर रही है। इस पार्टी ने इन चुनावों को टालने को लेकर इलेक्शन कमिशन से मांग की है।

सिक्किम के मुख्यमंत्री पीएस गोले भी पोकलोक कामरंग सीट से एक प्रत्याशी हैं। इसके अलावा दो अन्य सीटों मारतम रूमतंग व गंगटोक में भी उपचुनावों के लिए वोट डाले जा रहे हैं।

Sikkim Democratic Front के प्रवक्ता व पूर्व लोकसभा सांसद MP Prem Das Rai ने चीफ इलेक्शन कमिश्नर सुनिल अरोड़ा व इलेक्शन कमिश्नर सुशील चंद्रा से भी इस बात को लेकर मुलकात करते हुए इन्हें टालने की मांग की थी। उन्होंने इसके पीछे तर्क दिया था कि पोकलोक क्षेत्र में पुलिस शांति व्यवस्था बनाए रखने में असफल हुई है, ऐसे में यहां चुनाव प्रभावित हो सकते है जिस वजह से इसे टाला जाना चाहिए।