पूर्वी सिक्किम पश्चिम पांदम निर्वाचन क्षेत्र के जिला पंचायत की सेंट्रल पांदम जिला पंचायत पर चार उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं। सीट पर सत्ताधारी सिक्किम डेमोक्रेटिक मोर्चा की ओर से भुरुंग निवासी गणेश क्षेत्री मैदान में हैं, तो वहीं भारतीय जनता पार्टी ने जितलांग निवासी विष्णु प्रसाद शर्मा को दल का अधिकृत उम्मीदवार बनाया है।


चुनावी महासमर में दो निर्दलीय उम्मीदवार भी ताल ठोंक रहे हैं। जिनमें साखू निवासी कपिल देव पौडयाल डायमंड चुनाव चिन्ह के साथ उतरे हैं। यदि राजनीतिक विशेषज्ञों की मानें तो पुराने चुनाव परिणामों के आंकड़े को देखते हुए क्षेत्र में विपक्षी उम्मीदवारों का पलड़ा भारी रहा है। राज्य के सत्ताधारी दल एसडीएफ को वर्ष 2014 में इस क्षेत्र की विधानसभा सीट पर हार का सामना करना पड़ चुका है।


हालांकि क्षेत्र के विधायक गोपाल बराइली अभी हाल ही में विपक्षी खेमा छोड़ सत्ताधारी दल के साथ जुड़ चुके हैं। ऐसे में इस सीट के चुनावों में विधायक की प्रतिष्ठा भी दांव पर मानी जा रही है। हालात को भांपते हुए बराइली भी पूरे दल बल के साथ चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। बराइली लोगों को राज्य सरकार और मुख्यमंत्री पवन चामलिंग की उपलब्ध्यिां बताते हुए वोट मांग रहे हैं। प्रचार के दौरान बराइली ने राज्य की अन्य सीटों की ही तरह सेंट्रल सीट पर भी एसडीएफ की भारी जीत का दावा किया।


वहीं भारतीय जनता पार्टी उम्मीदवार जितलांग निवासी विष्णु प्रसाद शर्मा भी युवाओं की टोली के साथ वोट मांगते नजर आ रहे हैं। बताते चलें कि बीजेपी राज्य प्रमुख डीबी चौहान का घर भी इसी क्षेत्र में है ऐसे में चौहान की निगाह भी इस सीट को अपनी झोली में लाने की है। बीजेपी उम्मीदवार क्षेत्र में लोगों से राज्य में परिवर्तन के साथ साथ केंद्र में मोदी सरकार के काम और उनके हाथ मजबूत करने के नाम पर वोट मांग रहे हैं।