आमतौर पर नॉनवेज खाने वाले लोग चिकन को काफी पसंद करते हैं। यह प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत माना जाता है। बावजूद इसके क्या आप जानते हैं रोजाना चिकन खाने से आपकी सेहत पर अच्छा नहीं बुरा असर भी पड़ सकता है। यह आपका मोटापा बढ़ाने के साथ आपकी प्रजनन क्षमता पर भी बुरा असर डाल सकता है। आइए जानते हैं रोजाना चिकन खाने से शरीर को होते हैं कौन से बड़े नुकसान।

हार्वर्ड चैन पब्लिक हेल्थ स्कूल के शोधकर्ताओं ने पाया कि नियमित रूप से प्रोसेस्ड मीट का सेवन करने से पुरुषों की अंडे को फर्टाइल करने की क्षमता बाधित होती है। जबकि शोधकर्ताओं का यह भी कहना है कि फ्रेश चिकन खाने से बांझपन की समस्या को दूर भी किया जा सकता है। शोध में कहा गया कि जिन पुरुषों ने पोल्ट्री या फ्रेश चिकन खाया, उनमें प्रोसेस्ड मीट खाने वाले पुरुषों की तुलना में 13 प्रतिशत अधिक फर्टिलिटी दर देखी गई।

चिकन बिरयानी, बटर चिकन, फ्राई चिकन खाने में तो बहुत टेस्टी लगते हैं लेकिन चुपके-चुपके ये आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ाते रहते हैं। इन चीजों को रोजाना खाने से व्यक्ति का वजन बढ़ता है और वो मोटापे का शिकार बन जाता है। चिकन का फायदा लेने के लिए बेहतर होगा कि आप इसे सप्ताह में एक बार ही खाएं।

चिकन को गलत तरीके से खाने से आपका कोलेस्ट्रोल लेवल बढ़ सकता है। आपकी अच्छी सेहत इस बात पर निर्भर करती है कि आप चिकन का सेवन कैसे करते हैं। डीप फ्राईचिकन खाने के शौकीन लोगों को कोलेस्ट्रोल  बढ़ने की समस्या हो सकती है। अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रिशन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गलत तरीके से खाया गया व्हाइट चिकन भी रेड मीट की ही तरह शरीर में कोलेस्ट्रोल बढ़ाता है। कोलेस्ट्रोल को काबू में रखने के लिए उबला, ग्रील्ड या सेंका हुआ चिकन खाएं।

चिकन आपके शरीर का तापमान बढ़ाने का काम करता है। गर्मियों में अक्सर इसे खाते समय कुछ लोगों की नाक से पानी आने लगता है। ऐसा तब होता है जब लोग रोजाना चिकन खा रहे होते हैं। अगर चिकन खाते समय आपकी नाक से भी पानी या खून बहना शुरू हो जाए तो बेहतर होगा कि आप कुछ दिन तक चिकन न खाएं।

संक्रमण खा जोखिम-
सेहत पर हुई कई रिसर्च की मानें तो चिकन की खास किस्मों को खाने से यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। अमेरिकन सोसाइटी फॉर माइक्रोबायोलॉजी की पत्रिका mBio में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार,कुछ चिकन में ई-कोलाई बैक्टीरिया पाया जाता है, जो यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन का कारण बनता है।

प्रजनन की समस्या -
आमतौर पर चिकन का सेवन करने से पुरुषों और महिलाओं की प्रजनन क्षमता में सुधार होता है। वहीं अगर आप प्रोसेस्ड, पैक्ड या फ्रोजन चिकन का सेवन करते हैं तो उसमें मौजूद केमिकल्स प्रजनन क्षमता पर विपरीत असर डालते हैं।