बॉलीवुड अभिनेता और बिग-बॉस सीजन 13 के विजेता सिद्धार्थ शुक्ला का दिल का दौरा पड़ने निधन हो गया है। सिद्धार्थ सिर्फ 40 साल के थे। इतनी कम उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण हुई सिद्धार्थ शुक्ला की मौत चौंकाने वाली है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कई अंतर्निहित स्वास्थ्य समस्याओं के कारण कम उम्र में ही लोगों में इस तरह की समस्या होने का खतरा रहता है। क्या सिद्धार्थ शुक्ला को भी पहले से इस तरह की कोई दिक्कत थी? फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो सका है।

अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी के साल 2019 सम्मेलन में प्रस्तुत किए गए एक शोध में युवाओं में बढ़ रहे हार्ट अटैक के मामलों पर प्रकाश डाला गया। इस अध्ययन में शोधकर्ताओं ने बताया कि 40 वर्ष से कम आयु के लोगों में पिछले 10 साल में हार्ट अटैक के मामले दो फीसदी तक बढ़े हुए देखे गए हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक पुरुषों में 65 जबकि महिलाओं में 72 वर्ष की आयु के बाद दिल का दौरा पड़ने का खतरा अधिक होता है, हालांकि जिस तरह से हाल के वर्षों में 40 से कम उम्र के लोगों में भी इस तरह की समस्या देखने को मिल रही है वह काफी चिंताजनक है। आइए आगे की स्लाइड में इसके खतरों के बारे में जानते हैं।  

स्वास्थ्य विशेषज्ञ के अनुसार 40 से कम उम्र में दिल का दौरा पड़ने या अन्य हृदय रोगों के कारण मौत के मामले वैसे तो पहले बहुत ही कम थे, हालांकि हाल के कुछ वर्षों में इसमें इजाफा देखने को मिला है। सामान्यतौर पर शारीरिक गतिविधियों जैसे खेलने या व्याायाम आदि के दौरान हार्ट अटैक का खतरा हो सकता है। महिलाओं की तुलना में पुरुषों में इसकी आशंका अधिक हो सकती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक जिन वयस्कों को पहले से ही कोरोनरी आर्टरी डिजीज जैसी बीमारियां होती है, उन लोगों को विशेष सावधान रहने की आवश्यकता होती है।