पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के रिजल्ट में हॉटसीट नंदीग्राम से टीएमसी सुप्रीमो और सीएम ममता बनर्जी को हराने वाले शुभेंदु अधिकारी को बीजेपी विधायक दल का नेता चुना गया है।  सोमवार को केंद्रीय पर्यवेक्षक रविशंकर प्रसाद, महासचिव भूपेंद्र यादव, महासचिव और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, बीजेपी बंगाल के अध्यक्ष दिलीप घोष की मौजूदगी में नवनिर्वाचित विधायक शुभेंदु अधिकारी को नई जिम्मेदारी देने का एलान किया गया।  जबकि, मनोज टिग्गा को उपनेता का जिम्मा दिया गया है।  विधायक दल के नेता बनने पर शुभेंदु अधिकारी ने खुशी जताई। 

बीजेपी विधायक दल के नेता चुने गए शुभेंदु अधिकारी ने हॉटसीट नंदीग्राम से टीएमसी सुप्रीमो और सीएम ममता बनर्जी को हराया है।  वोटिंग के पहले ही शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को हराने का दावा कर डाला था।  कभी ममता बनर्जी के सेनापति की भूमिका निभा चुके शुभेंदु अधिकारी ने चुनाव के पहले बीजेपी का दामन थामा था।  

विधायक दल के नेता चुने जाने के बाद शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट करके खुशी जताई।  उन्होंने ट्वीट में लिखा कि विधानसभा में पार्टी के नेता बनाए जाने पर काफी खुशी हुई।  मैं विधानसभा में पार्टी और जनता की बातों को रखूंगा। सदन में बंगाल की जनता की आवाज को उठाऊंगा।  मैं जनता की हर तरह से मदद करुंगा। 

नंदीग्राम से चुनाव जीत चुके शुभेंदु अधिकारी ने बीजेपी विधायक दल के नेता चुने जाने के बाद एक बार फिर से ममता बनर्जी पर निशाना साधा है।  शुभेंदु अधिकारी ने कहा है कि पहली बार बंगाल में पराजित एमएलए सीएम बनी हैं।  इस बार विधानसभा में बीजेपी के 77 कमल फूल खिले हैं।  

उन्होंने रिजल्ट के बाद बंगाल में जारी हिंसा को लेकर भी दुख व्यक्त किया है।  शुभेंदु अधिकारी ने कहा है कि कई लोगों को शरणार्थी की तरह रहने को मजबूर होना पड़ा है, क्योंकि उन्होंने बीजेपी को वोट दिया था।  हम हिंसा मुक्त बंगाल का सपना साकार करके शांति से बैठेंगे।