भारत के एक प्रसिद्ध मंदिर के पास इतना धन है कि उसें प्राइवेट बैंको की बजाए अब दूसरी जगह जमा कराया जाएगा। यह मंदिर कोई और नहीं बल्कि उड़िसा का प्रसिद्ध श्री जगन्नाथ मंदिर है जिसके पैसे को अब राष्ट्रीयकृत बैंकों में जमा कराया जाएगा। इस का फैसला मंदिर प्रबंधक समिति ने लिया है कि मंदिर की निधि को निजी बैंकों या वित्तीय संस्थानों के बजाय राष्ट्रीयकृत बैंकों में जमा कराया जाएगा।

पुरी के ‘गजपति महाराज’ दिब्यसिंह देब की अध्यक्षता में हुई प्रबंधक समिति की बैठक में इस संबंध में फैसला लिया गया। श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीए) के मुख्य प्रशासक कृष्णन कुमार ने बुधवार को कहा, ‘‘मंदिर की निधि को प्राथमिकता के आधार पर राष्ट्रीयकृत बैंकों में जमा कराने का फैसला लिया गया है। जो बैंक ज्यादा ब्याज दर मुहैया कराएंगे उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी।’’

उन्होंने कहा कि एक निजी बैंक में जमा निधि को अब निकाला जाएगा। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मंदिर के पास करीब 600 करोड़ रुपये की निधि है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360