भारत के केरल राज्य से सऊदी अरब के लिए हज यात्रा पर जा शिहाब चोत्तूर की यात्रा पर पाकिस्तान ने ब्रेक लगा दिया है। केरल से करीब 3,000 किलोमीटर का सफऱ तय करते हुए शिहाब वाघा बॉर्डर पहुंचे थे, लेकिन वीजा न होने के चलते पाकिस्तानी अफसरों ने उन्हें सीमा पर ही रोक दिया था। इसके बाद शिहाब की ओर से लाहौर के एक शख्स सरवर ताज ने उच्च न्यायालय में एक अर्जी दाखिल की थी। इसमें शिहाब को पाकिस्तान के रास्ते पैदल ही सऊदी अरब जाने की परमिशन देने की मांग की गई थी। हालांकि अदालत ने 29 साल के शिहाब को परमिशन देने की मांग वाली अर्जी को खर्जी कर दिया।

Aaj Ka Love Rashifal : इन राशि वालों के आफिस या कार्यस्थल पर नये दोस्त बनेंगे, परिवार के साथ छुट्टियां बिताने की योजना बनेगी

केरल के रहने वाले शिहाब ने इसी साल जून में केरल से अपनी यात्रा की शुरुआत की थी। पिछले महीने वाघा बॉर्डर पहुंचने तक उसने लगभग 3,000 किलोमीटर का सफर तय किया था। लेकिन वाघा बॉर्डर पर पाकिस्तान के आव्रजन अधिकारियों ने उसे रोक दिया क्योंकि उसके पास वीजा नहीं था।बुधवार को लाहौर उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने शिहाब की तरफ से स्थानीय नागरिक सरवर ताज द्वारा दाखिल याचिका खारिज कर दी। पीठ ने कहा कि याचिकाकर्ता भारतीय नागरिक से संबंधित नहीं हैं, न ही उसके पास अदालत का रुख करने के लिए पावर ऑफ अटॉर्नी थी।

आज का राशिफल : इन राशि वालों को दूर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे, इन लोगों को व्ययवृद्धि से तनाव रहेगा

अदालत ने भारतीय नागरिक शिहाब के बारे में पूरी जानकारी भी मांगी, जो याचिकाकर्ता नहीं दे सका। गौरतलब है कि शिहाब ने जून में यात्रा की शुरुआत करते हुए कहा था कि वह 2023 में सऊदी अरब में हज करेंगे और इसके लिए वह पैदल ही सफर पर निकल चुके हैं। केरल में शिहाब के घर से सऊदी अरब स्थित मक्का की दूरी 8,640 किलोमीटर है। इसमें से 3 हजार किलोमीटर का सफऱ तय करते हुए वह वाघा बॉर्डर तक पहुंच गए थे। केरल के मलप्पुरम जिले के रहने वाले शिहाब ने भारत, पाकिस्तान, ईरान, इराक और कुवैत के रास्ते फरवरी 2023 में सऊदी अरब पहुंचने का प्लान बनाया था, जो पूरा नहीं हो सका।