मुंबई सेशंस कोर्ट ने एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है। पुलिस ने कोर्ट में बताया है कि शर्लिन चोपड़ा पोर्न रैकेट केस में गवाह है। इसलिए उन्हें पुलिस ने इस मामले में समन किया है। पोर्नोग्राफी रैकेट केस में बिजनेसमैन राज कुंद्रा पहले से जेल की सलाखों के पीछे हैं। पुलिस ने इस केस में शर्लिन चोपड़ा को बयान दर्ज कराने के लिए समन किया है, तभी से शर्लिन को अपनी गिरफ्तारी का डर सता रहा था। इस वजह से शर्लिन ने पहले ही कोर्ट में बेल की अर्जी डाल दी थी, जिसे अब कोर्ट ने ठुकरा दिया है. शर्लिन की तरफ से उनके वकील ने कोर्ट में ये दलील दी थी कि एक्ट्रेस को गिरफ्तारी की डर नहीं है, वे बस खुद का बचाव कर रही हैं।

मुंबई क्राइम ब्रांच की प्रॉपर्टी सेल ने शर्लिन चोपड़ा के साथ गहना वशिष्ठ को भी समन किया गया था। दोनों की एक्ट्रेसेज पुलिस के सामने नहीं हुई हैं। दोनों ने ही कुछ और दिनों की मोहलत मांगी है। शर्लिन चोपड़ा चाहे पुलिस के सामने गवाही देने से बच रही हों, लेकिन मीडिया के सामने शर्लिन ने राज कुंद्रा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। शर्लिन ने दावा किया है कि राज कुंद्रा ने ही उन्हें एडल्ट फिल्मों के बिजनेस में धकेला है।

शर्लिन के मुताबिक, राज ने उन्हें एडल्ट कंटेंट में काम करने को कहा था। पहले एक रोल ऑफर किया गया फिर बाद में एडल्ट कंटेंट बनाने को कहा। शर्लिन ने खुद को पोर्नोग्राफी रैकेट का विक्टिम बताया है। शर्लिन का आरोप है कि राज ने उन्हें अपने हॉटशॉट एप के लिए शूट करने की अपील की थी। हालांकि इसके लिए शर्लिन चोपड़ा ने मना कर दिया था।