लॉक डाउन और क र्यू्र के बावजूद महाराष्ट्र में कोरोना महामारी तेजी से पैर पसार रही है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई और आसपास के परिसरों में कोरोना का खौफ बढ़ता जा रहा है। मायानगरी में रविवार को आठ लोगों की मौत हुई। कोरोना मुंबई में अब तक 30 लोगों की जान ले चुका है। राज्य में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या 748 तक पहुंच गई है। 

उधर, मशहूर फिल्म निर्माता करीम मोरानी की बेटी शजा मोरानी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। बता दें कि मोरानी परिवार का अभिनेता शाहरुख खान के साथ करीबी संबंध है। करीम अपने पूरे परिवार के साथ मुंबई के जुहू इलाके में रहते हैं, यह इलाका बॉलीवुड सितारों का ठिकाना है। बता दें कि यह जुहू का पहला कोरोना पॉजिटिव मामला है, ऐसे में पूरे इलाके में तनाव फैल गया। शजा रविवार को शाम के समय कोरोना पॉजिटिव पाई गईं। उन्हें नानावती अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है। वह अपने माता-पिता और बहन जोया मोरानी के साथ के रहती हैं। अब परिवार के नौ सदस्यों का कोरोना टेस्ट होगा।

गौरतलब है कि मुंबई के बाद पुणे मेंं सबसे ज्यादा 100 मरीज मिले हैं, जिनमें से पांच लोगों की मृत्यु हो चुकी है। महामुंबई क्षेत्र में शामिल मनपा क्षेत्रों (मुंबई को छोड़) में भी कोरोना के 82 मरीज मिले हैं, जिनमें से छह की मौत हो चुकी है। अहमदनगर में 21 और नासिक जिले में एक कोरोना मरीज है। कोरोना के चलते राज्य में 45 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें से 13 लोगों ने रविवार को जान गंवाई। पुणे में तीन, औरंगाबाद में एक और कल्याण डोंबिवली क्षेत्र में एक-एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है।

राज्य सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद कोरोना का फैलाव रुक नहीं रहा है। स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि रविवार को राज्य में 113 नए मामले सामने आए। कल्याण से शनिवार देर रात कोरोना वायरस से संक्रमित एक व्यक्ति क्वारंटाइन से भाग निकला, जिससे स्थानीय लोग डरे हुए हैं। कल्याण डोंबिवली में कोरोना के 28, मीरा भायंदर में 15 और नवी मुंबई में 25 मरीज हैं। घनी आबादी वाले झोपड़पट्टी इलाकों में कोराना मरीजों की बढ़ती सं या के चलते सरकार के साथ ही मनपा प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीग-ए-जमात मरकज के कार्यक्रम में शामिल होकर लौटे 700 से ज्यादा लोग जगह-जगह क्वारंटाइन किए गए हैं, जिनमें से सात में कोरोना की पुष्टि हुई है।

साकीनाका इलाके में रविवार को एक एक व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि हुई, जो मरकज से लौटे तबलीगी जमात के लोगों के संपर्क में रहा था। मुंबई में सबसे ज्यादा 20 कोरोना मरीज वर्ली क्षेत्र में मिले। विदित हो राज्य के पर्यटन आदित्य ठाकरे वर्ली से विधायक हैं। 15 लाख की आबादी वाले धारावी क्षेत्र में कोरोना का पांचवां मरीज मिला है। यहां पहले ही एक 46 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो चुकी है। बीएमसी के एक सफाई कर्मचारी सहित एक डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। कई बिल्डिंग और सोसायटियां सील कर बीएमसी की ओर से सेनिटाइज की गई हैं। नायर हॉस्पिटल के डीन डॉ. रमेश भारमल ने कहा कि घनी बस्तियों में कोरोना का बढ़ता संक्रमण चिंताजनक है।

इधर, सीआरपीएफ का एक अफसर कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद उसके संपर्क में आए लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया। सीआरपीएफ डीजी ए.पी. माहेश्वरी सेल्फ क्वारंटाइन पर चले गए हैं। इसी तरह, गृह मंत्रालय में वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार के. विजय कुमार भी सेल्फ क्वारंटाइन में चले गए हैं। नोएडा पुलिस ने जिले में धारा 144 को बढ़ाकर 30 अप्रैल तक कर दिया है। लॉकडाउन के बावजूद स्कूल प्रबंधक अभिभावकों पर 15 अप्रैल तक फीस भरने के लिए दबाव बना रहे हैं। डीएम ने कहा है कि स्कूल फीस की मांग न करें, फिर भी कोई दबाव बनाता है तो प्रशासन उस पर कार्रवाई करेगा।