दिल्ली में ठंड धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है।  उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर राजस्थान, बिहार और हरियाणा में सुबह और शाम को घना कोहरा छाया रहेगा।  उत्तरी राज्यों में न्यूनतम तापमान में पिछले कुछ दिनों 3-4 डिग्री सेल्शियस की गिरावट दर्ज की गई। 

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार को 4.1 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ अब तक के मौसम का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया।  उत्तर भारत में दो से तीन दिनों तक कड़ाके की ठंड के आसार नजर आ रहे हैं।  दिल्ली में ठंड धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है।  उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर राजस्थान, बिहार और हरियाणा में सुबह और शाम को घना कोहरा छाया रहेगा।  उत्तरी राज्यों में न्यूनतम तापमान में पिछले कुछ दिनों 3-4 डिग्री सेल्शियस की गिरावट दर्ज की गई। 

सोमवार को न्यूनतम तापमान क्रमश: 8.4 डिग्री सेल्सियस, रविवार को 11.4 डिग्री सेल्सियस और शनिवार को 14.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। 

अन्य राज्यों की बात करें तो शून्य से 4.8 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान के साथ श्रीनगर में बुधवार को मौसम का अब तक का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया, जबकि लद्दाख के द्रास में शून्य से 18.6 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज हुआ।  मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, "रात में आसमान साफ रहने के साथ मौसम के शुष्क रहने की संभावना है।  आगामी तीन से चार दिनों में न्यूनतम तापमान में और गिरावट आने की संभावना है, जिससे शीतलहर और बढ़ जाएगी। 

राजस्थान में तापमान में गिरावट जारी है।  इसी क्रम में हिल स्टेशन माउंट आबू में न्यूनतम तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है, जिसके साथ रेगिस्तानी राज्य में यह क्षेत्र सबसे सर्द स्थान रहा।  माउंट आबू के अलावा श्रीगंगानगर में 2.5 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 5.1 डिग्री, जैसलमेर में 5.2, बीकानेर में 6.1, फलोदी में 6.2, पिलानी में 4.4 और सीकर में 7.5 डिग्री तापमान दर्ज किया गया।  बीते मंगलवार रात को कुल 17 जिलों में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से कम दर्ज किया गया। 

मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली निजी एजेंसी स्काइमेट के मुताबिक, इन चार दिनों में पारे में 10 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई है।  सन 1930 के 27 दिसंबर को दिल्ली में तापमान शून्य डिग्री दर्ज की गई थी। 

स्काइमेट के महेश पलावत ने पुष्टि की कि, "दिल्ली में बर्फीली हवाएं चल रही हैं। 

जब पारा दस डिग्री या उससे कुछ नीचे था, उस वक्त भारतीय मौसम विभाग ने सर्द हवाओं के चलने का ऐलान किया था और अब लगातार दो दिन से पारा 4.5 के आसपास या इससे कम तापमान पर बना हुआ है। 

दिल्ली के सफदरगंज वेधशाला, जहां के आंकड़ों को पूरे शहर के मौसम का प्रतिनिधि माना जाता है, ने न्यूनतम तापमान 4.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जबकि लोधीरोड, आयानगर और जाफरपुर वेधशाला में यह क्रमश: 4.2, 4.0 और 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किए गए। 

हालांकि, शहर में बहती तेज हवाओं के चलते वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 'सामान्य' श्रेणी पर बनी हुई है।  शहर का वायु गुणवत्ता सूचक दोपहर को 192 रहा. रविवार को बीते 24 घंटे का औसत एक्यूआई 162 पर बना रहा।