त्रिपुरा में भाजपा सरकार को अपने ही विधायक और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता आशीष दास (BJP MLA ashish das) के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM modi) और मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब (Biplab Kumar Deb) पर दिये गये बयान से शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है। भाजपा विधायक ने कालीघाट में पूजा के बाद खुलकर भाजपा का विरोध किया। उन्होंने इस पूजा को भाजपा में एक दशक की अवधि के ‘पाप की सफाई’ करार दिया। 

दास तृणमूल भवन (TMC ) कोलकाता से आने के बाद भाजपा नेतृत्व पर आक्रामक रहे हैं। उन्होंने पश्चिम बंगाल उपचुनाव में भवानीपुर विधानसभा सीट पर मुख्यमंत्री एवं तृणमूल अध्यक्ष ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को जीत की बधाई दी थी। उन्होंने उम्मीद जताई कि 2024 में देश की जनता बनर्जी को प्रधानमंत्री बनायेगी। दास ने कहा, त्रिपुरा में भाजपा ने अपने साढ़े तीन साल के कार्यकाल के दौरान लोगों से छल किया है। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के कदमों पर चलने के बजाय प्रधानमंत्री  (PM modi) और गृहमंत्री भ्रष्ट और आपराधिक छवि के लोगों का साथ देते हैं। 

दास (Tripura MLA Ashish Das) ने कहा कि देब अपने साढ़े तीन साल के कार्यकाल में पार्टी के 36 विधायक समेत करीब 100 भाजपा नेताओं को संभालने में विफल हुये हैं। उन्होंने कहा कि वह पहले दिन से ही भ्रष्टाचार में संलिप्त हैं। मुख्यमंत्री पर आरोप लगाते हुये उन्होंने कहा कि उनके गैर जिम्मेदाराना बयान की वजह से भारत के करीबी दोस्त नेपाल और श्रीलंका से रिश्ते खराब हुए हैं। दास ने पत्रकारों से कहा, भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं समेत विधायक, मंत्री, पत्रकार और नौकरशाह बिप्लव देब की राजनीति से परेशान हैं। 

राष्ट्रीय नेताओं को उन्होंने यह भी बताया कि  देब माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी को सहायता कर रहे हैं लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस (TMC) में जाने की ओर इशारा करते हुये कहा कि मोदी सरकार देश की सम्पत्ति को निजी हाथों में बेच रही है। मोदी सरकार आयी थी तो कहा गया था, न खाऊंगा, न खाने दूंगा, देश नहीं मिटने दूंगा,  देश नहीं झुकने दूंगा, लेकिन ये अब मजाक बनकर रह गया है। आज सभी अपराधी, भ्रष्टाचारी और ठग भाजपा में बैठे हैं। दास के बयान पर राज्य के भाजपा प्रवक्ता सुब्रता चक्रवर्ती ने पलटवार करते हुये कहा, पार्टी आशीष दास पर नजर बनाये हुये है। वह भ्रमित होकर ऐसा बोल रहे हैं