दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के काजीगुंड के वाईके पोरा इलाके में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के 3 नेताओं को आतंकवादियों ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। जानकारी मिली है कि आतंकियों ने BJP नेताओं को तब गोलियों से भुना जब वह तीनों कार से अपने घर जा रहे थे। बीजेपी नेताओं की मौत की जिम्मेदारी आतंकी संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट (TRF) ने ली है। सूचना मिलते ही सुरक्षा बलों के ऑपरेशन में इशफाक अहमद डार को गिरफ्तार कर लिया है।


पुलिस ने बताया कि इशफाक अहमद डार द रेजिस्टेंस फ्रंट (TRF) का आतंकी है। आतंकी इशफाक अहमद डार ने अपने गुनाह को कबूल कर लिया है। इसी के साथ इशफाक अहमद ने बताया कि वह ग्रेनेड हमले के लिए इस इलाके में आया हुआ था। हैरानी की वाला खुलासा भी इशफाक अहमद ने किया कि वह पुलवामा में हुए ग्रेनेड हमलों में भी शामिल था। लेकिन इसी के साथ इशफाक अहमद ने बताया कि अज्ञात बंदूकधारियों ने नेताओं पर गोलियां चलाईं थी।


जानकारी के लिए बता दें कि द रेजिस्टेंस फ्रंट (TRF) लश्कर-ए-तैयबा का एक छाया समूह माना जाता है। मारे गए बीजेपी नेताओं की पहचान कुलगाम के युवा मोर्चा के महासचिव फिदा हुसैन इटू, सोफत देवसर और उमर हज्जाम के रूप में हुई है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा कि इस आतंकी हमले में 3 भाजपा नेताओं की लक्षित हत्या की निंदा करता हूं। अल्लाह उन्हें जन्नत में जगह दे और उनके परिवार को इस कठिन समय में ताकत मिले।