बिहार के कटिहार में पत्नी द्वारा पति की हत्या करवाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है।  पुलिस ने हत्या की इस गुत्थी को महज 60 घंटे के अंदर सुलझाते हुए आरोपियों को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है। 

 दरअसल, मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के भट्टा टोला में 20 जून को गोली मारकर ट्रक ड्राइवर धर्मेंद्र रविदास की हत्या कर दी गई थी।  पुलिस ने जब इस घटना की जांच की तो बड़ी साजिश का खुलासा हुआ।  दावा है कि धर्मेंद्र की हत्या उसकी पत्नी सजली ने अपने प्रेमी राजू कुमार के साथ मिलकर करवाई थी। 

हत्या के साजिश रचते हुए बंधन बैंक कर्मी और सजली के प्रेमी राजू ने सुपारी किलर संजीत पंडित की मदद से इस वारदात को अंजाम दिलवाया था।  इसके एवज में संजीत को तय रकम भी दी गई थी।  पुलिस द्वारा इस मामले का खुलासा किया गया। 

 इसकी जानकारी देते हुए कटिहार के आरक्षी अधीक्षक विकास कुमार ने बताया कि हत्या की इस वारादात में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।  साथ ही घटना को अंजाम देने में इस्तेमाल पिस्टल के साथ 8 राउंड गोली भी बरामद की गई है। 

एसपी ने बताया कि घटना के पीछे की वजह अवैध प्रेम संबंध है।  दरअसल, मृृतक की पत्नी सजली देवी और बैंक कर्मी राजू कुमार में पिछले कई महीनों से प्रेम संबंध था।  इसके अलावा एक और वजह यह भी थी कि बंधन बैंक में रिलेशनशिप मैनेजर के तौर पर काम करने वाले राजू ने ही सजलि के पति धर्मेंद्र रविदास को 90 हजार का लोन भी दिलवाया था। 

 दोनों में यह बात तय हुई कि धर्मेंद्र की हत्या के बाद ये लोन खत्म हो जाएगा और आगे दोनों प्रेमी-प्रेमिका अपनी नई दुनिया बसा लेंगे. हत्या की साजिश रचने वाली सजली देवी दो बच्चे की मां भी हैं। 

कटिहार में हुई हत्या की घटना को पुलिस ने महज 60 घंटे के अंदर सुलझा कर बड़ी उपलब्धि हासिल की है।  गिरफ्तार सभी आरोपियों ने अपने-अपने गुनाह कबूल लिए हैं। पति की हत्या की आरोपी पत्नी सजलि देवी ने बताया कि वो सीधे तौर पर हत्या में शामिल नहीं है, हालांकि अवैध प्रेम संबंध के सवाल पर उसने चुप्पी साध ली।