दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने आज सेखवां गांव पहुंचकर पूर्व अकाली मंत्री सेवा सिंह सेखवां को पार्टी में शामिल कराया। बीमार चल रहे सेखवां ने केजरीवाल का धन्यवाद करते हुये कहा कि जिस अकाली दल की सेवा में उन्होंने अपना सारा जीवन लगा दिया लेकिन अकाली दल का कोई भी नेता उनका हालचाल पूछने तक नहीं आया लेकिन केजरीवाल ने यहां आकर उनका हालचाल जाना ,इसके लिये वो उनके शुक्रगुजार हैं। यह उनके लिये बड़ी बात है। 

उन्होंने अब सोचा है कि वह अपना शेष जीवन आप पार्टी को देंगे। पार्टी उनके अनुभव का इस्तेमाल करना चाहेगी तो हमेशा तैयार हैं। केजरीवाल ने बुजुर्ग अकाली नेता का आप पार्टी में स्वागत करते हुये कहा कि सेखवां के पार्टी में आने से पार्टी को मजबूती मिलेगी और उनके लंबे अनुभव का लाभ मिलेगा। उन्हें आप पार्टी का कुनबा बढ़ते देख हर्ष हो रहा है। 

उन्होंने आशा जताई कि पार्टी को सेखवां का मार्ग दर्शन मिलेगा केजरीवाल ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिद्धू के दो सलाहकारों की राष्ट्र विरोधी टिप्पणी को निंदनीय बताते हुये कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक है तथा उसकी एकता अखंडता को लेकर कोई बयान देना उचित नहीं। इस बारे में कुछ भी कहने से पहले सोच विचार करना चाहिये । राष्ट्रहित सर्वोपरि हैं तथा सभी को मिलकर अपने देश का मान सम्मान बढ़ाने की बात करनी चाहिये। इस मौके पर पंजाब आप के प्रधान भगवंत मान ,प्रतिपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ,पंजाब मामलों के प्रभारी जरनैल सिंह ,सह प्रभारी राघव चड्ढा ,कुंवर विजय प्रताप सहित सभी विधायक और पार्टी के पदाधिकारी मौजूद थे।