रमजान खत्म होने वाला है और ईद का त्योहार भी 2 या 3 मई को मनाई जा सकती है। पूरे देश में ईद हर्षोल्लास मनाई जाएगी लेकिन मध्यप्रदेश में मुस्लिम भाई ईद की त्योहार खुल कर नहीं मना पाएंगे क्योंकि यहां खरगोन में हिंसा होने के बाद इलाके में धारा 144 लागू है। सरकार ने ऐलान किया है कि ईद और अक्षय तृतीया के त्योहारों पर छूट नहीं दी जाएगी।

जानकारी के लिए बता दें कि बीते 10 अप्रैल को खरगोन में रामनवमी पर शोभायात्रा के दौरान हुए पथराव और आगजनी के बाद लागू कर्फ्यू में पिछले कुछ दिनों से कुछ घंटे के लिए ढील मिल रही है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि कर्फ्यू में रविवार को सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक ढील दी गई है और इस दौरान लोग इन त्योहारों के लिए खरीदारी कर सकते हैं।
ईद का त्योहार 2 मई या 3 मई को चांद दिखने के आधार पर मनाया जाएगा, जबकि अक्षय तृतीया, जिसे नए बिजनेस और सोने जैसे महंगे निवेश की शुरुआत के लिए शुभ माना जाता है, 3 मई को मनाया जाएगा।


पीस कमेटी की बैठक

पीस कमेटी की बैठक के बाद खरगोन के अपर जिलाधिकारी सुमेर सिंह मुजाल्दा ने कहा कि आगामी त्योहारों के मद्देनजर खरगोन में 2 और 3 मई को कर्फ्यू में ढील नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अक्षय तृतीया पर शहर में किसी भी विवाह समारोह की अनुमति नहीं दी जाएगी।


पुलिस अधिकारी रोहित काशवानी ने बताया, ‘फिलहाल शहर में स्थिति पूरी तरह से सामान्य है, लेकिन आगामी त्योहारों के मद्देनजर पुलिस फोर्स पूरी तरह से सतर्क है। अतरिक्त पुलिस फोर्स बुलाई जा रही है और कानून व्यवस्था को हर हाल में कायम रखा जाएगा ’।