पीएम मोदी ने आज केंद्र सरकार की स्क्रैप नीति को देश के विकास में सबसे खास बताया है। उन्होंने आज गुजरात में आयोजित निवेशकों के सम्मेैलन को वर्चुअल तौर पर संबोधित करते समय इसका ऐलान किया है। पीएम मोदी ने कहा कि “देश में आज नेशनल आटोमोबाइल स्क्रैकपिंग नीति लान्चि हो रही है, जो देश के आटोमोबाइल सेक्ट् स र को एक नई पहचान देगी। खराब और प्रदूषण फैलाने वाले व्हीपकल्सह को वैज्ञानिक तरीके से सड़क से हटाने में ये नीति अहम भूमिका निभाएगी ”।

इसी मौके पर उन्होंेने कहा कि “मोबिलिटी का देश के विकास में अहम योगदान है। 21वीं सदी का भारत कंविनियएंट और क्लीेन लक्ष्यक को लेकर चले, ये समय की मांग है। ये नीति तेज विकास के सरकार के कमिटमेंट को दर्शाती है। 

ये देश की आत्म निर्भरता को भी आगे बढ़ेगी ”। बताया जा रहा है कि यह आने वाले 25 वर्ष देश के लिए बेहद अहम हैं। आज मौजूद संपदा धरती से मिल रही है, वो भविष्यि में कम हो जाएगी और इसलिए ही भारत डीप ओशियन की नई संभावनाओं को तलाशने में लगा है। पुरानी गाडि़यों की वजह से होने वाले हादसों को इस नीति के तहत रोका जा सकेगा। 

जनकारी के लिए बता दें कि क्लााइमेट चेंज को हर कोई अनुभव कर रहा है। इसलिए देश को बड़े कदम उठाने भी जरूरी हैं। बीते वर्षों में ऊर्जा के सेक्टोर में काफी तरक्कीे की है। पीएम ने नई स्क्रै प नीति को वेस्टत टू वेल्थ  की दिशा में एक अहम कदम बताया है। उन्हों ने कहा कि इससे न सिर्फ रोजगार मिलेगा बल्कि देश की अर्थव्यलवस्थाि को भी तेजी मिलेगी। ये नीति हमारे जीवन से जुड़ी हुई है।