बिहार समेत देश के कई राज्यों में 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने को लेकर केंद्र सरकार ने खुली छूट दे दी है। बिहार में करीब 28 सितंबर से 9वीं से 12वीं के स्कूल खोल दिए गए हैं। यहां भी ये नियम लागू है कि शिक्षकों से विभिन्न विषयों में मार्गदर्शन लेने के लिए छात्र अभिभावकों से अनुमति लेकर ही स्कूल आ सकेंगे। बच्चों को वीक में केवल दो दिन ही स्कूल आना होगा। इस दौरान 50% टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ ही स्कूल आएगा। सरकार का यह आदेश निजी और सरकारी दोनों स्कूलों पर लागू होगा।
उत्तर प्रदेश में 15 अक्टूबर के बाद पेरेंट्स अभिभावक की लिखित सहमति से बच्चे स्कूल जा सकते हैं। यहां डिग्री कॉलेजों, यूनिवर्सिटीज को शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार के निर्देश के अनुसार खोलना होगा। ऑनलाइन शिक्षा को प्राथमिकता दी जाएगी। स्कूल प्रबंधन, जिला प्रशासन से विचार-विमर्श कर स्कूल खोल सकेंगे।
दिल्ली सरकार ने 5 अक्टूबर तक स्कूल बंद रखने का फैसला किया है। पहले कहा जा रहा था कि स्कूल 21 सितंबर को खुल जाएंगे, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने अपने फैसले में फिर से बदलाव किया। यहां राज्य के सरकारी समेत, निगम, एनडीएमसी, दिल्ली कैंट से संबद्ध व निजी स्कूलों पर भी बंदी का यह आदेश लागू रहेगा और फिर 5 अक्टूबर के बाद ही यहां स्कूल खोलने पर फैसला लिया जाएगा।
राजस्थान में नौवीं से 12वीं के स्कूल 21 सितंबर से ही खोले गए थे, सरकार स्वैच्छ‍िक रूप से बाकी स्कूल कॉलेज एक अक्टूबर से खोलने पर विचार कर रही है। जहां अभ‍िभावकों की अनुमति के बाद ही छात्र आएंगे। हालांकि यहां स्कूलों की टाइमिंग को लेकर सरकार ने आदेश जारी किया है, जिसमें ग्रीष्मकालीन टाइमिंग 31 अक्टूबर तक जारी रहेगी।
मध्य प्रदेश में सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों की  9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं 21 सितंबर से शुरू की गईं। जिला शिक्षा अधिकारी ने इस बारे में कहा था कि केंद्र की स्कूल री-ओपनिंग गाइडलाइन के अनुरूप एसओपी का सख्ती से पालन किया जाएगा। गाइडलाइन के मुताबिक 9वीं-12वीं के बच्चों को स्कूल आने के लिए अभिभावकों से लिखित अनुमति लाना जरूरी है। प्रदेश सरकार प्राइमरी  स्कूलों और कोचिंग सेंटरों को चरणबद्ध तरीके से खोलने को लेकर 15 अक्टूबर के बाद फैसला ले सकती है। इसके लिए अभिभावकों की सहमति भी जरूरी होगी.।
बता दें कि अनलॉक 5.0 की गाइडलाइन के अनुसार 15 अक्टूबर से स्वीमिंग पूल भी खोलने की अनुमति दे दी गई है। इसके अलावा देश के अन्य राज्यों जैसे कर्नाटक, त्रिपुरा, उत्तराखंड सहित कई राज्यों ने अभी कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्कूल खोलने की तारीख घोष‍ित नहीं की है। यहां की सरकारें इस पर विचार विमर्श कर रही हैं कि किस तरह चरणबद्ध तरीके से स्कूल खोले जाएं।