आज से देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक, भारतीय स्टेट बैंक ने नए सर्विस चार्ज लागू किए हैं। अब बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट खाताधारकों को बैंक के ब्रांच से या फिर एटीएम से मुफ्त में पैसे निकालने की सुविधा सिर्फ चार बार ही मिलेगी। 

यदि ग्राहक चार बार से ज्यादा निकासी करते हैं, तो बैंक इस पर प्रति कैश निकासी पर 15 रुपए के साथ जीएसटी वसूलेगा। एसबीआई के एटीएम के अलावा, अन्य बैंकों के एटीएम से निकासी पर भी इतना ही चार्ज लागू है। वहीं बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट खाताधारकों को एसबीआई एक वित्त वर्ष में 10 चेक मुफ्त देगा। इसके बाद 10 चेक वाली चेकबुक के लिए ग्राहक को 40 रुपए के साथ जीएसटी का भुगतान करना होगा। वहीं 25 चेक वाली चेकबुक के लिए ग्राहकों से 75 रुपए के साथ जीएसटी वसूला जाएगा।

हालांकि BSBD अकाउंट होल्डर्स के लिए ब्रांच, एटीएम और सीडीएम (कैश डिस्पेंसिंग मशीन) के जरिए नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन और ट्रांसफर ट्रांजैक्शन बिल्कुल निशुल्क होगा। अगर आपके पास वैध केवाईसी डॉक्यूमेंट है तो आप BSBD Account खुलवा सकते हैं। इस तरह के अकाउंट का लक्ष्य समाज के गरीब एवं वंचित तबकों को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ना है। आईआईटी बंबई के इस साल अप्रैल के एक स्टडी के मुताबिक एसबीआई को 2015-20 के दौरान 12 करोड़ BSBD अकाउंटहोल्डर्स से सर्विस चार्ज के रूप में 300 करोड़ रुपये की आमदनी हुई।