एसबीआई ने अपने 45 करोड़ ग्राहकों को अलर्ट किया है कि यदि मोबाइल में कई गुप्त जानकारियां हैं जो सेव की तो खाते से पैसे चोरी हो सकते हैं। बैंक ने ऐसा देश में तेजी से बढ़ते डिजिटल फ्रॉड के चते किया है।

ैएसबीआई ने एक बार फिर अपने ग्राहकों को तेजी से बढ़ते बैंकिंग फ्रॉड को लेकर सावधान किया है। आजकल बैंकिंग सुविधाएं ऐप के जरिए मोबाइल से ही हो रही हैं, लेकिन अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो अपनी बैंकिंग से जुड़ी जानकारियां मोबाइल में सेव करके रखते हैं तो आपके लिए खतरे की घंटी है।

ैएसबीआई की ओर से कहा गया है कि देशभर में तेजी से बढ़ते फ्रॉड के मामलों से सावधान रहने की जरूरत है। आपको कभी भी अपने बैंक खाते से जुड़ी जानकारी को मोबाइल में सेव करके नहीं रखना चाहिए। एसबीआई ने आगाह किया है कि अगर आपने अपना बैंकिंग डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड की जानकारी और उसके पासवर्ड, सीवीवी वगैरह मोबाइल में सेव करके रखते हैं ताकि उसका इस्तेमाल आसानी से कर सकें तो ये आपकी बहुत बड़ी भूल है, ऐसा कतई न करें।

इन सभी जानकारियों को अपने मोबाइल से तुरंत डिलीट कर दें। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे को ऑनलाइन फ्रॉड की आशंका है। एसबीआई ने कहा है कि ग्राहक ऐसी गलती बिल्कुल न करें, जिससे उनका बैंक अकाउंट खाली हो जा। कभी भी अपने बैंक अकाउंट और ऑनलाइन बैंकिग की जानकारी को फोन में सेव करके न रखें।

नहीं करें ये गलतियां-
1. एसबीआई ने कहा है कि अगर आप अपने मोबाइल में संवेदनशील बैंकिंग जानकारियां सेव करके रखते हैं तो ये जानकारियां लीक हो सकती है।
2. इसके अलावा एटीएम कार्ड का बेहद सावधानी से इस्तेमाल करें। एटीएम नंबर, पासवर्ड और सीवीवी की जानकारी किसी से भी शेयर न करें। अपना एटीएम किसी को भी इस्तेमाल नहीं करने दें।
3. एसबीआई ने अपने ग्राहकों से कहा है कि बैंकिंग के लिए पब्लिक इंटरनेट का इस्तेमाल कतई न करें। ये सुरक्षित नहीं है, इसमें आपकी निजी जानकारियां लीक होने का खतरा रहता हैण् इससे आपके साथ फ्रॉड भी हो सकता है।