अमेरिका में 9/11 अटैक में सऊदी अरब का जो रोल उसको लेकर FBI ने सीक्रेट दस्तावेज जारी किए हैं। जी हां, अमेरिका पर 9/11 आतंकी हमले के 20 साल पूरे होने पर ये राज खोला गया है। इस हमले में तकरीबन 3 हजार लोगों की जान चली गई थी। हमले की 20वीं बरसी पर एफबीआई ने 16 पन्नों के सीक्रेट दस्तावेज जारी किए हैं।

ये दस्तावेज 11 सितंबर, 2001 को हुए आतंकवादी हमलों में 2 सऊदी हाईजैकर्स को दिए गए लॉजिस्टिकल सपोर्ट के बारे में हैं। दस्तावेजों में अमेरिका में सऊदी सहयोगियों के साथ हाईजैकर्स के संपर्कों के बारे में बताया गया है, लेकिन इस बात का कोई भी सबूत नहीं मिला है कि इस साजिश में सऊदी सरकार भी शामिल थी।

हमलों की 20वीं बरसी पर ये दस्तावेज जारी किए गए हैं, जोकि पहले खोजी रिकॉर्ड हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने उन चीजों की समीक्षा करने का आदेश दिया था, जो कई सालों से सार्वजनिक दृश्य से बाहर हैं। बाइडेन पर हाल के हफ्तों में पीड़ित परिवारों ने दबाव बनाया था और न्यूयॉर्क में मुकदमे को लेकर लंबे समय से रिकॉर्ड की मांग की थी। इस रिकॉर्ड में आरोप लगाया गया था कि हमलों में सऊदी के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल थे।

आतंकी हमलों में शामिल होने के आरोपों से सऊदी सरकार लगातार इनकार करती रही है। वॉशिंगटन में सऊदी दूतावास ने हाल ही में कहा था कि उन्होंने देश के खिलाफ लग रहे निराधार आरोपों को पूरी तरह से खत्म करने के लिए सभी रिकॉर्ड्स को पूरी तरह से सामने लाने का समर्थन किया है। दूतावास ने कहा कि सऊदी अरब पर मिलीभगत का कोई भी आरोप 'स्पष्ट रूप से झूठा' है।