अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) ने केंद्र सरकार और भाजपा द्वारा चलाई जा रही राज्य सरकारों पर हमला बोला है। आप ने अर्थव्यवस्था से लेकर एनआरसी जैसे मुद्दों पर भाजपा को घेरा है। आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह का कहना है कि देश मंदी की मार झेल रहा है और चर्चा मंदिर-मस्जिद और अगड़े-पिछड़े जैसे विषयों पर हो रही है।

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में अपने राज्य में असम की तरह एनआरसी लागू करने की बात कही थी। इस पर आप का कहना है, आपने असम में रह रहे मूल नागरिकों को विदेशी घोषित कर दिया और अब कह रहे हैं यूपी में भी एनआरसी लाएंगे, बिल्कुल मजाक बना रखा है। देश भुखमरी से जूझ रहा है और भाजपा 19 लाख लोगों के लिए ‘कॉलोनी’ बनाकर रहने और खाने का इंतजाम करेगी वो भी आम जनता के टैक्स के पैसे से। 

आपको बता दें कि संजय सिंह जिसे ‘कॉलोनी’ बता रहे हैं वो असम में बनाया जा रहा डिटेंशन सेंटर यानी कैदखाना है। इसमें एनआरसी से बाहर किए लोगों को कैद किया जाएगा। अवैध प्रवासियों के लिए यह अपनी तरह का पहला डिटेंशन सेंटर होगा। एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि इस डिटेंशन सेंटर का साइज सात फुटबॉल के मैदानों के बराबर होगा। एनआरसी के अंतिम सूची में असम के 19 लाख से अधिक लोग अपना नाम शामिल नहीं करवा पाए हैं। सूबे के गोलपाड़ा में बन रहे इस कैदखाने में 3000 के करीब लोगों को कैद किया जा सकता है।

दिसंबर तक बनकर तैयार होने वाले इस कैदखाने पर तंज कसते हुए संजय सिंह ने कहा कि एक तरफ देश में लोगों के पास नौकरी नहीं है, वहीं दूसरी तरफ सरकार 19 लाख लोगों को देश के नागरिकों के टैक्स के पैसे से कैद करके उन्हें रहने-खाने की व्यवस्था देने वाली है। उन्होंने इसी का हवाला देते हुए उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में एनआरसी लागू किए जाने की निंदा की। योगी सरकार के 30 महीने पूरे होने पर आप का कहना है कि राज्य में आठ से 10 साल की बच्चियों तक से रेप हो रहा है और एनकाउंटर से लेकर लूट तथा हत्याओं की खबरें रोजाना ही आती रहती हैं। संजय सिंह ने कहा, अगस्त के महीने में तो बच्चे मरते हैं, जैसे संवेदनहीन बयान वाले राज्य के मुखिया योगी बाबा खुश हो सकते हैं। उन्होंने कहा, योगी बाबा का नारा है नमक रोटी खिलाएंगे-मन्दिर वहीं बनाएंगे।