झांसी में समलैंगिक प्यार में पड़ीं दो लड़कियों के बीच धोखेबाजी का मामला सामने आया है। थाना बबीना के खैलार गांव निवासी लड़की ने प्रेमिका की खातिर 12 लाख रुपये खर्च करके जेंडर चेंज (लिंग परिवर्तन) करा लिया लेकिन, उसी प्रेमिका ने किसी लड़के के चक्कर में उसे धोखा दे डाला। परेशान होकर वह न्यायालय की शरण में पहुंची। बबीना पुलिस ने प्रेमिका को गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश किया। हालांकि प्रेमिका को जमानत मिल गई। मामले की अगली सुनवाई 23 फरवरी को होगी। 

ये भी पढ़ेंः PM मोदी की सभा में बंदूक के साथ पकड़ा गया फर्जी एनएसजी जवान, सेना-आईबी समेत कई एजेंसियां कर रहीं जांच


बबीना के खैलार इलाके में रहने वाली सना खान एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एएनएम पद पर काम करती थी। वर्ष 2016 में वह प्रेमनगर इलाके में किराए के मकान पर रहती थी। यहां मकान मालिक की बेटी सोनल श्रीवास्तव (26) से उसकी दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे ये दोस्ती प्यार में बदल गई। दोनों ने एक साथ जीने-मरने की कसमें खा लीं। यह बात जब सोनल के परिजनों को पता चली तब उन्होंने 10 अगस्त 2017 को सना से घर खाली कर लिया।

ये भी पढ़ेंः भूलकर भी ट्विटर और यूट्यूब पर शेयर मत करना ये वीडियो, मोदी सरकार ने लिया ऐसा कड़ा फैसला


इस बात पर सोनल का घरवालों से झगड़ा हुआ। इसके बाद वह सना के साथ रहने चली गई। उधर, सोनल के घर छोड़ने से नाराज उसके परिजनों ने बबीना थाने में शिकायत कर दी। इस मामले में थाने में 18 सितंबर 2017 को इकरारनामा हुआ और दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगे। इसके बाद सना ने अपना लिंग परिवर्तन कराने का निर्णय लिया और दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में जून 2020 में ऑपरेशन कराने के बाद वह लड़की से लड़का बन गई। सना ने अपना नाम बदलकर सोहेल खान कर लिया।सना उर्फ सोहेल के अनुसार ऑपरेशन के बाद बॉडी रिकवर होने में एक साल लग गया। इस दौरान अप्रैल 2022 से सोनल एक अस्पताल में नौकरी करने लगी। यहां काम करने वाले एक लड़के से उसे प्रेम हो गया। इसके बाद सोनल ने उसे तवज्जो देना बंद कर दिया।

सोहेल ने उसे नौकरी छोड़ने के लिए भी कहा लेकिन सोनल ने मनाकर दिया और मई में उसे छोड़कर चली गई। इसके बाद दोनों में विवाद बढ़ गया। सोनल के इस रवैये से परेशान होकर सोहेल ने कोर्ट की शरण ली।कोर्ट ने सोनल को हाजिर होने को कहा लेकिन, कई सुनवाई के बाद भी वह हाजिर नहीं हुई। इस पर कोर्ट ने एनबीडब्ल्यू जारी दिया। 18 जनवरी 2023 को बबीना पुलिस को एनबीडब्ल्यू तामील करने को समन गया। बबीना की भेल चौकी इंजार्च प्रकाश सिंह की अगुवाई में पुलिस टीम ने सोनल को उसके घर से गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश किया। बबीना इंस्पेक्टर अशोक कुमार सिंह के मुताबिक एनबीडब्ल्यू वारंट के आधार पर सोनल की गिरफ्तारी की गई थी। कोर्ट से उसे जमानत मिल गई है। मामले की अगली सुनवाई 23 फरवरी को होगी।