लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Violence) में हुई घटना को दुखद बताते हुए भाजपा ने कांग्रेस और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर राजनीतिक रोटियां सेंकने का आरोप लगाया है। नई दिल्ली के भाजपा मुख्यालय में मीडिया से बात करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने आरोप लगाया कि कांग्रेस लखीमपुर में हुई दुखद घटना पर राजनीति कर रही है। भाजपा प्रवक्ता ने राहुल गांधी और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए यह आरोप लगाया कि वे लखीमपुर खीरी में हुई घटना का राजनीतिक लाभ उठाने के मकसद से अशांति फैलाने और हिंसा भडक़ाने की कोशिश कर रहे हैं।

लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Violence) में हुई घटना पर भाजपा की तरफ से पक्ष रखते हुए पात्रा ने कहा कि लखीमपुर खीरी में जो हुआ, वो निश्चित तौर पर दुखद है और भाजपा का यह स्पष्ट मानना है कि इस तरह की दुखद घटना पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। प्रदेश सरकार की तत्परता का जिक्र करते हुए संबित ने कहा कि घटना के बाद किसान संगठनों और प्रशासन के बीच बातचीत हुई और दोनों इस निष्कर्ष पर पहुंचे की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) इस तरह का बयान देकर जांच को प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं। संबित पात्रा ने राहुल गांधी के प्रेस कॉन्फ्रेंस पर सवाल उठाते हुए कहा कि राहुल ने हमेशा की तरह इस बार भी गैरजिम्मेदाराना रवैया दिखाया है।

संबित पात्रा (Sambit Patra) ने दावा किया कि भाजपा की कोशिश है कि हिंसा न फैले और शांति बनी रहे, लेकिन कांग्रेस शांति भंग कर हिंसा को भडक़ाना चाहती है। रॉबर्ट वाड्रा और राहुल गांधी के बयानों को लेकर कटाक्ष करते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि दोनों के बीच इस बात की प्रतियोगिता चल रही है कि कांग्रेस का अध्यक्ष कौन बनेगा ? पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट पर राहुल द्वारा सवाल उठाने को लेकर पात्रा ने पूछा कि क्या राहुल गांधी फॉरेंसिक एक्सपर्ट हैं ? गांधी परिवार पर हमला करते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि इस परिवार का किसानों से, व्यापारियों से और हिंदुस्तान के किसी भी अन्य वर्ग से कोई लेना देना नहीं है। इनको केवल अपने परिवार से ही मतलब है। ये लखीमपुर खीरी की घटना को एक अवसर के तौर पर देखते हुए इसका इस्तेमाल अपने परिवार की साख बचाने के लिए करने का प्रयास कर रहे हैं।

राजस्थान के हनुमानगढ़ में किसानों पर हुए लाठीचार्ज का जिक्र करते हुए भाजपा ने राहुल गांधी से सवाल किया कि क्या उन्होंने इस बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज के मामले में अपने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को फोन किया ? क्या उन्होंने वहां के किसानों की चिंता की ? दरअसल , बुधवार को राहुल गांधी ने लखीमपुर खीरी घटना को लेकर भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया था कि भाजपा किसानों पर आक्रमण कर रही है और वो इस हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात करने के लिए जाना चाहते हैं।