उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (UP assembly elections) के लिए मंगलवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) (सपा) ने 10 प्रत्याशियों की घोषणा की। इसमें लखनऊ की 6 विधानसभा सीटों के लिए भी उम्मीदवारों की घोषणा की गई। लखनऊ पूर्वी से पूर्व मंत्री रविदास मेहरोत्रा (Ravidas Mehrotra) को दोबारा उम्मीदवार बनाया गया है, जबकि लखनऊ पूर्वी से पार्टी प्रवक्ता अनुराग भदौरिया पर फिर दांव लगाया गया है।

बता दें कि छात्र नेता पूजा शुक्ला (pooja shukla) को लखनऊ उत्तरी विधानसभा सीट से टिकट दिया गया है। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ को काला झंडा दिखाने का ईमान मिला है। बता दें कि लखनऊ विश्वविद्यालय में वामपंथी संगठन आइसा ने छात्र नेता के तौर पर पूजा में अपना सियासी सफर शुरु किया था। लखनऊ की 9 विधानसभा सीटों में अब तक आठ पर उम्मीदवार उतारे जा चुके हैं। मोहनलालगंज में विधायक अमरीश पुष्कर (Amrish Pushkar) को टिकट दिया गया है। इसी तरह मलिहाबाद से पूर्व सांसद सुशीला सरोज (Sushila Saroj) को मैदान में उतारा गया है लेकिन सुशीला के चुनाव लडऩे पर सस्पेंस बरकरार है।खास बात यह है कि अभी तक सरोजनी नगर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार की घोषणा नहीं की गई है।

समाजवादी पार्टी ने लखनऊ पश्चिम से अरमान, लखनऊ के बक्शी का तालाब से पूर्व मंत्री गोमती यादव, लखनऊ उत्तर से पूजा शुक्ला, लखनऊ मध्य से पूर्व मंत्री रविदास मेहरोत्रा, लखनऊ पूर्वी से अनुराग भदौरिया (Anurag Bhadoria) और लखनऊ के कैंट से राजू गांधी (Raju Gandhi) को प्रत्याशी बनाया है। लखनऊ उत्तरी से विधायक रहे पूर्व मंत्री अभिषेक मिश्रा को पार्टी ने इस बार प्रत्याशी नहीं बनाया है। सपा ने लखनऊ उत्तर से अभिषेक मिश्र व पश्चिम से मोहम्मद रेहान का टिकट काटा है। लखनऊ पश्चिम से बसपा छोडक़र आये अरमान खान को उतारा गया है। इस सीट पर अरमान खान (Arman Khan) 2017 में बसपा से लड़े थे। समाजवादी पार्टी ने उन्नाव के बांगरमऊ से मुन्ना अल्वी, रायबरेली के बछरावां सुरक्षित से श्याम सुंदर भारती, सुलतानपुर से इसौली से ताहिर खान और बांदा के बबेरू से विशंभर यादव को प्रत्याशी बनाया है। समाजवादी पार्टी ने बांदा जिले की चार में तीन विधान सभा सीटों पर प्रत्याशी पहले ही घोषित कर दिए थे, जबकि बबेरू सीट (233) पर मंथन चल रहा था।