समाजवादी पार्टी के बड़े नेता अबु आजमी के बेटे फरहान आजमी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के फैसले पर सवाल उठाते हुए यह बात कही है। फरहान ने कहा है कि सीएम उद्धव ठाकरे अपने 100 दिन पूरे होने पर अयोध्या जाने के फैसले से मुसलमानों को डरा रहे हैं। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि यदि उद्धव ठाकरे अयोध्या के राम मंदिर जाते हैं तो हम भी अयोध्या जाएंगे, लेकिन बाबरी मस्जिद बनाने के लिए।

फरहान आजमी ने 27 जनवरी को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ मुंबई में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यदि उद्धव ठाकरे अयोध्या जा रहे हैं, तो मैं भी जाऊंगा। हम सब जाएंगे। मैं महा विकास अघाड़ी के नेताओं को भी आमंत्रित करूंगा। मेरे पिता भी जाएंगे। उद्धव ठाकरे राम मंदिर बनाने जाएंगे, लेकिन हम बाबरी मस्जिद बनाने के लिए जाएंगे। हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले से निराश हैं।

फरहान आजमी ने यह भी कहा कि सरकार के 100 दिन पूरे होने पर सीएम उद्धव ठाकरे का अयोध्या जाने का कदम मुसलमानों को डराने के लिए है, लेकिन आपको बता दूं कि दुनिया भर में हमारी आबादी 2.5 अरब है। 50 से अधिक मुस्लिम देश हैं, जो खुशी से हमें अपने देश ले जाएंगे, लेकिन हम नहीं जाएंगे।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर हमला करते हुए फरहान आजमी ने कि नरेंद्र मोदी के नाम पर उद्धव ठाकरे की शिवसेना ने वोट हासिल किया। अब वह उन्हें छोड़कर एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिल गए। मैं आपको बता रहा हूं कि उनकी सरकार 6 से 8 महीने से ज्यादा नहीं चलेगी। उन्होंने अब से नोटा के लिए वोट करने के लिए भी कहा।

फरहान आजमी के बयान पर महाराष्ट्र के मंत्री और शिवसेना नेता उदय सामंत ने जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने जो बयान दिया है, वो उनके विचार हैं। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने चुनाव से पहले अयोध्या जाने का फैसला किया था और इसलिए वह अयोध्या जा रहे हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360