दिल्ली (में विधायकों की सैलरी में अब जल्द इजाफा हो सकेगा. केंद्र सरकार ने दिल्ली विधानसभा के उस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है, जिसमें 11 साल बाद विधायकों की सैलरी में बढ़ोतरी करने की सिफारिश की गई थी. अभी विधायकों को सभी भत्ते मिलने के बाद 54 हजार रुपये प्रति महीने मिलते हैं. लेकिन सैलरी में बढ़ोतरी होने के बाद प्रत्येक महीने 90 हजार रुपये मिलने लगेंगे. 

यह भी पढ़े : Surya Gochar 2022 : 15 मई से सूर्य राशि परिवर्तन का इन 6 राशियों पर पड़ेगा शुभ प्रभाव, मेष व सिंह वाले करें ये काम


सैलरी और सभी भत्ते मिलाकर अब दिल्ली के विधायकों को हर महीने 90 हजार रुपए मिलेंगे, जो राशि अबतक 54 हजार रुपये थी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले दिल्ली सरकार ने साल 2015 में यह प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा था. लेकिन तब मंजूरी नहीं मिली थी.

यह भी पढ़े : इस सरकारी बैंक की बंद करनी पड़ेगी 600 ब्रांच, आपका क‍िस शाखा में है खाता


दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने कहा, "केंद्र की तरफ से जो प्रस्ताव आया है. उसमें बहुत काट छांट हुई है.  पिछली बार 2011 में विधायकों की सैलरी में बढ़ोतरी की गई थी. लेकिन 11 साल बाद इतनी कम सैलरी बढ़ोतरी उपयुक्त नहीं है."

उन्होंने आगे कहा, "दिल्ली में भी विधायकों को अन्य राज्यों के बराबर ही सैलरी और भत्ते मिलने चाहिए. बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अब दिल्ली विधानसभा के अगले सत्र में विधायकों की सैलरी बढ़ोतरी का बिल लाया जाएगा. 

यह भी पढ़े : Shigella bacteria ने केरल में बरपाया कहर, जानिए क्या हैं शिगेला बैक्टीरिया के लक्षण?


इससे पहले साल 2015 में दिल्ली सरकार ने विधायकों की वेतन बढ़ोत्तरी मामले को दिल्ली विधानसभा से पास करके केंद्र सरकार को भेजा था. लेकिन सरकार ने उस बिल अस्वीकार कर दिया था. अब इस बार दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार के सुझावों के मद्देनजर नए प्रस्ताव पर मुहर लगाई है.

10 अलग-अलग राज्यों में विधायकों का वेतन भत्ता : 

उत्तराखंड - 1.98 लाख 

हिमाचल प्रदेश - 1.90 लाख 

हरियाणा- 1.55 लाख 

राजस्थान- 1,42,500 

तेलंगाना- 2,50,000 

बिहार - 1.30 लाख 

दिल्ली- 90,000

आंध्र प्रदेश- 1,25,000 

गुजरात- 1,05,000 

उत्तर प्रदेश- 95,000