भारत के पूर्व कप्तान और चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी धोनी ने अपने गृह राज्य झारखंड में बिगड़ती बिजली संकट को लेकर कहा कि एक करदाता के रूप में वह इसका कारण जानना चाहती हैं कि इतनी बिजली कटौती क्यों की जा रही है।

ये भी पढ़ेंः सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता, बारामूला में जैश-ए- मोहम्मद के 2 शीर्ष आतंकवादियों का किया सफाया


राज्य में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज होने और लगातार बिजली कटौती के कारण साक्षी ने अपने ट्वीट में निराशा व्यक्त करते हुए कहा, झारखंड के एक करदाता के रूप में सिर्फ यह जानना चाहती हूं कि इतने सालों से झारखंड में बिजली संकट क्यों है? हम हर संभव कोशिश करके बिजली बचाते हैं, फिर बिजली लगातार क्यों काटी जा रही है। रिपोर्टों में कहा गया है कि राज्य की बिजली की मांग पीक आवर्स के दौरान 2500 मेगावाट को पार कर जाती है और तेनुघाट विद्युत निगम लिमिटेड की केवल दो इकाइयां, जिनकी बिजली उत्पादन क्षमता लगभग 350 मेगावाट है, राज्य की मांग को पूरा करती है। बाकी की मांग इंडियन एनर्जी एक्सचेंज द्वारा पूरी की जाती है।

ये भी पढ़ेंः रूसी सेना ने यूक्रेन को दिया एक और झटका, खेरसॉन सिटी काउंसिल की बिल्डिंग पर किया कब्जा


ताजा संकट का सबसे बड़ा कारण देशभर में बिजली संयंत्रों के लिए कोयले की कमी है और जल्द ही कमोडिटी की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के प्रयास जारी हैं। साक्षी के ट्वीट को हजारों लाइक और री-ट्वीट मिले, जिसमें एक प्रशंसक ने कहा कि वह भाग्यशाली हैं कि वह रांची में रही, जहां अन्य शहरों की तुलना में स्थिति बेहतर थी। एमएस धोनी वर्तमान में आईपीएल में महाराष्ट्र में खेल रहे हैं, जहां उनकी टीम सीएसके ने सिर्फ दो मैचों में जीत हासिल की है और तालिका में 9वें स्थान पर है।