अभिनेता-फिल्मकार साजिद खान पर एक मॉडल द्वारा यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया गया है, जिसके बाद से साजिद की गिरफ्तारी की मांग करते हुए शुक्रवार को ट्विटर पर हैशटैगअरेस्टसाजिदखान जबदस्त ट्रेंड होने लगा। इंस्टाग्राम पर डिपंल पॉल नामक एक मॉडल के असत्यापित अकाउंट से लिखा गया, ‘‘जब मीटू मूवमेंट की शुरुआत हुई थी, तब कई लोगों ने साजिद खान पर अपनी बात रखी थी, लेकिन मैं ऐसा करने का साहस नहीं जुटा पाई क्योंकि इंडस्ट्री में कई और कलाकारों की तरह मेरा भी कोई गॉडफादर नहीं था और मुझे परिवार का खर्चा भी चलाना था इसलिए मैं चुप रही। अब मेरे माता-पिता मेरे साथ नहीं है। मैं बस अपने लिए कमाती हूं। ऐसे में साहस जुटाकर मैं बोल सकती हूं कि सत्रह साल की उम्र में साजिद खान द्वारा मेरा शोषण किया गया था।’’

डिपंल ने बताया कि ऐसा उनके साथ एक ऑडिशन के दौरान हुआ था। उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने मेरे साथ गंदी बातें कीं। मुझे छूने की कोशिश की। यहां तक कि अपनी अगली फिल्म हाउसफुल में काम के एवज में उन्होंने मुझे अपने सामने कपड़े भी उतारने को कहा।’’ अपने पोस्ट के आखिर में डिंपल लिखती हैं, ‘‘भगवान जाने ऐसा उन्होंने कितनी लड़कियों के साथ किया होगा। मैं सहानुभूति पाने के लिए यह सब नहीं लिख रही हूं। मैं ऐसा इसलिए कर रही हूं क्योंकि मुझे एहसास हुआ है कि इसने मुझे काफी बुरी तरीके से प्रभावित किया है और मेरे पास बताने का उस वक्त कोई चारा नहीं था, लेकिन अब यह सही समय है। ऐसे लोगों को सलाखों के पीछे डाल देना चाहिए, न सिर्फ कास्टिंग काउच के चलते बल्कि ये लोगों को अपने इशारों पर चलाते हैं और उनसे उनके सपने छीन लेते हैं। हालांकि मैं वहीं नहीं रूकी। हां, इस पर चुप रहकर मैंने गलत किया।’’

पोस्ट के कैप्शन में डिंपल लिखती हैं, ‘‘इससे पहले कि लोकतंत्र की हत्या हो जाए और अभिव्यक्ति की आजादी न रहे, मुझे लगा कि मुझे बोलना चाहिए।’’ इस खबर के सामने आते ही सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें आड़े हाथों ले लिया। एक ने लिखा, ‘‘यह सीरियल मॉलेस्टर अब तक जेल में क्यों नहीं है। हैशटैगअरेस्ट साजिदखान।’’ किसी और यूजर ने लिखा, ‘‘यह आदतन यौन अपराधी है। इसे सलाखों के पीछे रहना चाहिए। ट्विटर को ऐसे दानवों के लिए ब्लू टिक की जगह रेड टिक का बंदोबस्त करना चाहिए। हैशटैगअरेस्ट साजिदखान।’’ साजिद की इस पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।