यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने दावा किया है कि रूसी सैनिकों ने घरों, खेतों और उनके देश के उत्तरी क्षेत्रों की सड़कों सहित हर जगह बारूदी सुरंगे छोड़ दी हैं। जेलेंस्की ने सोमवार देर रात अपने संबोधन में रूसी सैनिकों पर ट्रिपवायर सुरंगों सहित बड़ी संख्या में खतरनाक वस्तुओं को छोड़ कर जाने का आरोप लगाया। 

ये भी पढ़ेंः गुजरात दंगा मामले में कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को सुप्रीम कोर्ट से मिली सबसे बड़ी राहत, जानिए कैसे


उन्होंने कहा, हमारे देश के उत्तरी क्षेत्रों में सुरक्षा कार्य चल रहा है, जहां से रूसी सैनिकों को खदेड़ा गया है ... सबसे पहले बारूदी सुरंगों को हटाया जा रहा है। रूसी सैनिकों ने सैकड़ों हजारों खतरनाक वस्तुओं को पीछे छोड़ दिया है। ये ऐसे गोले हैं, जिनमें विस्फोट नहीं हुआ है, बारूदी सुरंगें है, ट्रिपवायर बारूदी सुरंगें हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेनी सैनिक रोजाना इन सामानों का निपटान कर रहे हैं। उन्होंने कहा, कब्जेदारों ने हर जगह बारूदी सुरंगें छोड़ दी... जिन घरों पर उन्होंने कब्जा किया ... सड़कों पर और खेतों में भी। 

ये भी पढ़ेंः यूपी में एक बार फिर भाजपा की प्रचंड जीत, सपा का अभी तक नहीं खुला खाता, CM योगी ने कही ऐसी बात


उन्होंने लोगों की संपत्ति, कारों और दरवाजों तक में बारूदी सुरंगे बिछा दी हैं। उन्होंने जानबूझकर इन क्षेत्रों में वापसी को यथासंभव खतरनाक बनाने के लिए सब कुछ किया। राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि रूस की कार्रवाइयों के कारण यूक्रेन अब दुनिया में बारूदी सुरंगों से सबसे अधिक प्रभावित देशों में से एक है। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से इसे रूसी सैनिकों का युद्ध अपराध मानने का आग्रह किया।