यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने कहा कि रूस ने पूर्वी डोनबास क्षेत्र पर कब्जा करने के लिए हमला शुरू कर दिया है। मास्को ने रॉकेट और तोप के गोलों से शहरों पर बमबारी की। एक वीडियो संबोधन में जेलेंस्की ने कहा कि डोनबास के लिए युद्ध शुरू हो गया है।

ये भी पढ़ेंः BSNL लेकर आई सबसे धांसू Plan! सिर्फ इतने पैसों में 395 दिन तक मिल रहे गजब फायदे


यूके्रन के शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ओलेक्सी डेनिलोव ने कहा कि रूस ने क्षेत्र में यूक्रेन की अग्रिम पंक्ति को तोड़ने की कोशिश की। रूस के कीव पर कब्जा करने में विफल रहने पर इस आक्रामण की लंबे समय से उम्मीद की जा रही थी। रूस शुरू में प्रमुख यूक्रेनी शहरों पर कब्जा करना चाहता था और सरकार को गिराना चाहता था, लेकिन कड़े प्रतिरोध का सामना करने के बाद रूसी रक्षा अधिकारियों ने कहा कि ऑपरेशन के पहले चरण में इसका मुख्य उद्देश्य पूरा किया गया और इसकी सेना को राजधानी के आसपास के क्षेत्रों से स्थानांतरित कर दिया गया।

ये भी पढ़ेंः मंदिर के सामने कुरान पढ़ना चाहती थी ये मुस्लिम नेता, अब लगाने पड़ेंगे थाने के चक्कर, जानिए पूरा मामला


उन्होंने रूसी भाषी डोनबास क्षेत्र की मुक्ति के लिए आक्रमण पर ध्यान केंद्रित करने की घोषणा की। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने आक्रमण को यूक्रेन की सैन्य शक्ति समाप्त करने के प्रयास के रूप में चित्रित किया है। यूके्रन और उसके सहयोगीअकारण हुए हमले को खारिज करते हैं। सोमवार को रूस ने कई पूर्वी क्षेत्रों में रॉकेट और तोप के गोलों की बौछार की, जिसमें लुहान्स्क के क्रेमिना शहर और डोनेट्स्क क्षेत्र में 8 नागरिक मारे गए। पश्चिमी शहर लवीव में 4 रूसी हमलों में 7 लोग मारे गए और 11 अन्य घायल हो गए। अबतक यूक्रेन के लवीव में बड़े पैमाने पर हमले हुए हैं।