राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (President Vladimir Putin) ने एक नए कानून पर हस्ताक्षर किया है जिसके बाद सीबीएस न्यूज (CBS News) रूस से बाहर निकलने वाला लेटेस्ट मीडिया आउटलेट बन गया है। इसके अंतर्गत चल रहे मॉस्को-कीव युद्ध (Russia Ukraine war) के बारे में ‘फर्जी समाचार फैलाने’ के लिए जेल की सजा का प्रावधान है। सीबीएस न्यूज के प्रवक्ता ने कहा कि आउटलेट ‘वर्तमान में रूस से प्रसारित नहीं हो रहा था क्योंकि हम आज पारित किए गए नए मीडिया कानूनों को देखते हुए अपनी टीम के लिए परिस्थितियों की निगरानी कर रहे हैं’।

ये भी पढ़ेंः रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच भारत ने दागी सबसे खतरनाक मिसाइल, थरथर कांप रहे दुश्मन देश


एक रिपोर्ट के अनुसार पुतिन ने शुक्रवार को उस कानून पर हस्ताक्षर किए जिसके तहत यूक्रेन में युद्ध (Russia Ukraine war) के बारे में ‘फर्जी खबर’ फैलाने के आरोप में 15 साल तक की जेल की सजा का प्रावधान है। कानून, वास्तव में रूस में स्वतंत्र रिपोर्टिंग को रोक देगा, जहां समाचार आउटलेट्स को यूक्रेन में संघर्ष को ‘युद्ध’ के रूप में संदर्भित करने की अनुमति नहीं है। इससे पहले दिन में, सीएनएन, ब्लूमबर्ग और एबीसी न्यूज सहित अन्य प्रमुख अमेरिकी आउटलेट्स ने भी घोषणा की थी कि वे युद्ध के परिणामस्वरूप रूस से प्रसारण निलंबित कर रहे हैं। सीएनएन (CNN) के एक प्रवक्ता ने कहा कि नेटवर्क ‘रूस में प्रसारण बंद कर देगा, जबकि हम स्थिति का मूल्यांकन करना जारी रखेंगे। 

ये भी पढ़ेंः रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच चीन ने किया हमला, रॉकेट से चांद में कर दिया इतना बड़ा छेद!


एबीसी न्यूज (ABC news), जिसके रूस में कई संवाददाता काम कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि रूस में आज पारित नए सेंसरशिप कानून के कारण, एबीसी न्यूज सहित कुछ पश्चिमी नेटवर्क आज रात देश से प्रसारित नहीं हो रहे हैं। हम स्थिति का आकलन करना और निर्धारित करना जारी रखेंगे कि क्या इसका मतलब जमीन पर हमारी टीमों की सुरक्षा के लिए है। बीबीसी और सीबीसी न्यूज सहित अन्य वैश्विक समाचार आउटलेट्स ने भी रूस में परिचालन निलंबित कर दिया है। जबकि सीबीसी न्यूज ने कहा कि यह ‘‘रूस में पारित नए कानून के बारे में बहुत चिंता थी, जो यूक्रेन और रूस में मौजूदा स्थिति पर स्वतंत्र रिपोर्टिंग को अपराधीकरण करने के लिए प्रतीत होता है।