फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत की। इस बातचीत को लेकर मैक्रों ने कहा कि यूक्रेन में सबसे खराब स्थिति आना अभी बाकी है। मैक्रों के एक प्रवक्ता के हवाले से बताया कि फ्रांस और रूस के राष्ट्रपतियों ने गुरुवार सुबह करीब डेढ़ घंटे तक टेलीफोन पर बातचीत की। इस बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला है। पुतिन अपनी बात पर अड़े हैं और उन्होंने किसी भी तरह का समझौता करने से इनकार कर दिया है।

ये भी पढ़ेंः जलमार्ग मंत्री सर्वानंद सोनोवाल दो दिवसीय यात्रा पर नागालैंड पहुंचे


एलिसी ने बताया कि रूस के राष्ट्रपति ने अपने आक्रामक को जारी रखने के लिए अपने दृढ़ संकल्प को व्यक्त किया, जिसका उद्देश्य पूरे देश पर ‘नियंत्रण कर लेना’ है। फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने कहा, इस चर्चा के दौरान रूस के राष्ट्रपति ने कहा कि रूसी सेना का ऑपरेशन योजना के अनुसार जारी है और अभी यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध के बुरे हालात आना बाकी है। 

ये भी पढ़ेंः पूर्व भारतीय क्रिकेट विराट कोहली ने अपने 100वें टेस्ट मैच में रच दिया इतिहास, जानिए कैसे


एलिसी के अनुसार, राष्ट्रपति (मैक्रों) का अनुमान है कि राष्ट्रपति पुतिन ने उन्हें जो बताया, उसे देखते हुए सबसे बुरा वक्त आना अभी बाकी है। बीएफएमटीवी ने बताया कि रूसी महत्वाकांक्षा पूरे यूक्रेन पर कब्जा करने की है। व्लादिमीर पुतिन के युद्ध का उद्देश्य नहीं बदला हैं।