यूक्रेन और रूस से बीच चल रही जंग (Russia Ukraine war) में अब परमाणु हमले (nuclear attack) का खतरा बढ़ चुका है। दरअसल पुतिन ने परमाणु हथियार संभालने वाले बल को हाई अलर्ट पर करने का आदेश दिया है। वहीं बेलारूस ने परमाणु निरपेक्षता संधि (nuclear neutrality treaty) तोड़ते हुए रूस को इस बात की अनुमति दे दी है कि पुतिन अपनी परमाणु मिसाइलों (nuclear missile) को बेलारूस में तैनात कर दें और जरूरत पड़ने में वहीं से यूक्रेन पर हमला बोल दे। आखिरी बार 1945 में जापान के हिरोशिमा और नागासाकी में परमाणु बम गिराए गए थे और भारी तबाही मची थी। यूक्रेन के राष्ट्रपति ने अपने देश के लिए अगले 24 घंटे अहम बताए हैं।

इस बीच अमेरिका और जी7 देशों के विदेश मंत्रियों ने रूस के आक्रमण के बीच यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमायत्रो कुलेबा (Ukraine's Foreign Minister Dmitry Kuleba) और जनता को सहयोग का आश्वासन दिया है। अमेरिका के विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा, विदेश मंत्री एंटनी जे ब्लिकंन ने आज जी7 देशों कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान और इंग्लैंड के विदेश मंत्री और यूरोपीय संघ (The European Union) के उच्च प्रतिनिधि के साथ बातचीत की। सभी प्रतिनिधियों ने यूक्रेन के विदेश मंत्री के साथ रूस के पूर्व नियोजित, बिना उकसावे और अनुचित आक्रमण पर वैश्विक प्रतिक्रिया पर चर्चा की। 

ब्लिंकन और जी7 ने यूक्रेन के विदेश मंत्री को रूस के आक्रमण पर उनकी सम्मिलित प्रतिक्रिया पर जोर दिया। इस बीच, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelensky) ने रविवार को कहा कि उन्होंने इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लियेन (European Commission President Ursula von der Leyen) और पोलैंड के राष्ट्रपति एंड्रेज डूडा के साथ कीव की सुरक्षा क्षमताओं और अन्य सुरक्षा मुद्दों पर अलग-अलग बात की। एक ट्वीट में उन्होंने कहा, इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और पोलैंड के राष्ट्रपति एंड्रेज डूडा से मौजूदा सुरक्षा स्थिति पर बात की। उन्होंने आक्रामकता का जवाब देने के लिए आगे संयुक्त कदम उठाने पर सहमति जतायी। उन्होंने कहा, हमने यूक्रेन की सुरक्षा क्षमताओं को मजबूत करने के लिए सुदृढ़ फैसले लेने, वृहत आर्थिक सहयोग और यूरोपीय संघ में यूक्रेन की सदस्यता की बात की। डूडा ने प्रस्ताव दिया कि यूक्रेन को जल्दी ही यूरोपीय संघ में शामिल होने के लिए उम्मीदवार का दर्जा दिया जाएगा।