मॉस्को। रूस ने 40 जर्मन राजनयिकों को अपने देश से बाहर निकालने की घोषणा की है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, जर्मनी में काम करने वाले 40 रूसी राजनयिकों को अप्रैल में 'प्रवेश वर्जित' घोषित कर दिया गया था। इसी के विरोध में रूस सोमवार को जर्मन राजदूत गेजा एंड्रियास वॉन गेयर को तलब किया और अपना फैसला सुनाया।

यह भी पढ़े : VASTU TIPS: घर में आईना लगवाते समय उसकी दिशा का विशेष ख्याल रखें, इस दिशा में लगाने से बचें


रूस ने जर्मनी के फैसले को 'अस्वीकार्य' करार दिया और राजदूत को सूचित किया कि 40 जर्मन राजनयिकों को देश से बाहर निकाला जाएगा।

रूस के इस कदम पर प्रतिक्रिया देते हुए, जर्मन विदेश मंत्री एनालेना बेरबॉक ने कहा कि यह 'अपेक्षित' था, लेकिन 'किसी भी तरह से उचित नहीं था'।

यह भी पढ़े : Diamond Crossing: भारत का अनोखा रेलवे ट्रैक, यहां चारों दिशाओं से आती है ट्रेनें फिर भी आज तक नहीं हुई कोई टक्कर


उसने कहा कि जर्मनी द्वारा निष्कासित रूसी राजनयिक कोई कूटनीतिक सेवा नहीं कर रहे थे जबकि रूस द्वारा निष्कासित जर्मनी के लोगों ने 'कुछ भी गलत नहीं किया'।