सिंघम, चेन्नई एक्सप्रेस और ब्लॉकबस्टर हिट गोलमाल फ्रेंचाइजी के डायरेक्टर रोहित शेट्टी ने मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया पर बायोपिक बनाने का फैसला किया है। इस बायोपिक के लिए रोहित शेट्टी ने रिलायंस एंटरटेनमेंट के साथ हाथ मिलाया है। बायोपिक मारिया के 2020 के संस्मरण लेट मी से इट नाउ पर आधारित होगी। बायोपिक के लिए कास्टिंग की जा रही है।

ये भी पढ़ेंः अखिलेश और आजम की खटास बीच शिवपाल यादव और आजम खान मिलकर यूपी में बनाएंगे नया मोर्चा, ईद के बाद होगी चर्चा


बायोपिक के बारे में बात करते हुए रोहित शेट्टी ने कहा, राकेश मारिया वह व्यक्ति जिसने 36 वर्षों तक आतंक को देखा। उनकी अविश्वसनीय यात्रा 1993 में मुंबई में हुए विस्फोटों से लेकर अंडरवल्र्ड के खतरों से भरी हुई है। रियल लाइफ के सुपर कॉप की बहादुरी और निडरता पर्दे पर लाकर मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं। आईपीएस अधिकारी राकेश मारिया ने 1981 बैच से सिविल सेवा परीक्षा पास की। 1993 में पुलिस उपायुक्त (यातायात) के रूप में, उन्होंने बॉम्बे सीरियल धमाकों के मामले को सुलझाया। मारिया ने 2003 गेटवे ऑफ इंडिया और जावेरी बाजार दोहरे विस्फोट मामले को सुलझाया।

ये भी पढ़ेंः बढ़ती महंगाई के बीच सरकार ने दी बड़ी राहत, लोकल एसी ट्रेनों में अब यात्रियों का किराया आधा


देश की आर्थिक राजधानी में हुए 26/11 हमले की जांच की जिम्मेदारी भी उन्हें दी गई। मारिया ने जिंदा पकड़े गए एकमात्र आतंकवादी अजमल कसाब से पूछताछ की और मामले की सफलतापूर्वक जांच की।बायोपिक बनने पर राकेश मारिया ने कहा, यात्रा को फिर से जीना रोमांचक है। रोहित शेट्टी जैसे शानदार निर्देशक बायोपिक का निर्माण कर रहे हैं, यह मेरे लिए वास्तव में खुशी की बात है। पुरानी यादों से अधिक, कठिन चुनौतियों का सामना कर काम करने वाली मुंबई पुलिस के असाधारण काम को लोगों के सामने रखने का यह एक कीमती अवसर है।