लखनऊ. उत्तर प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के नये मामलों में एक बार फिर तेजी देखी जा रही है, जिसे देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी टीम-9 के साथ बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराया जाए. साथ ही अधिक संक्रमण वाले जिलों में सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य किया जाए. 

यह भी पढ़े : Akshaya Tritiya 2022 : अक्षय तृतीया कल मनाई जाएगी , दान-पुण्य का है विशेष महत्व


सीएम योगी ने नोएडा, गाजियाबाद, आगरा और लखनऊ में फेस मास्क की अनिवार्यता को प्रभावी बनाने को कहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की संभावित चौथे लहर को देखते हुए जमीनी स्तर पर सभी तैयारियां पूरी होनी चाहिए.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संक्रमण की चुटहि लहर की आशंका को देखते हुए लोगों जागरूक करने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम को प्रभावी ढंग से एक्टिव करने के निर्देश भी दिए. साथ ही स्कूलों में बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए उन्होंने बच्चों को भी जागरूक करने के लिए कदम उठाने को कहा है. गौरतलब है कि गाजियाबाद, नोएडा और लखनऊ के कई स्कूलों में बच्चे भी संक्रमित पाए गए हैं.

यह भी पढ़े : Horoscope May 2: आज का दिन इन 5 राशियों के लिए बहुत की भाग्यशाली, ये राशि वाले हरी वस्‍तु का दान करें


बैठक में अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि पिछले दो हफ्तों से एनसीआर के जिले नोएडा और गाजियाबाद में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. पिछले 24 घंटे में पूरे प्रदेश में 269 नए केस की पुष्टि हुई है. जिसमें सर्वाधिक मामले गौतमबुद्ध नगर में सामने आए. गौतमबुद्ध नगर में 117, गाजियाबाद में 55, लखनऊ में 26 और आगरा में 15 नए केसों की पुष्टि हुई. प्रदेश में कोरोना के कुल 1587 एक्टिव मामले हैं. 

यह भी पढ़े : School summer vacations 2022: गर्मी का कहर जारी , स्कूलों में कब होंगी गर्मी की छुट्टियां? देखें राज्यवार लिस्ट


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिन जिलों में केस अधिक मिल रहे हैं वहां सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क लगाने को अनिवायज़् करें. प्रदेश में कम से कम डेढ़ लाख कोविड टेस्ट प्रतिदिन किए जाएं. पॉजिटिव पाए जा रहे लोगों का सैम्पल लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग का काम लगातार किया जाए. मुख्यमंत्री ने गांवों और शहरी क्षेत्रों में तेजी से टेस्टिंग और टीकाकरण करने के निर्देश दिए.