कांग्रेस नेता रिपुन बोरा ने भाजपा की केंद्र सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि नोटबंदी की वजह से देश की अर्थव्यवस्था तबाह हो गई है। असम कांग्रेस के अध्यक्ष एवं नेता बोरा ने कहा 8 नवंबर 2019 को नोटबंदी की थी जिसका परिणाम यह हुआ कि देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई। 

बोरा ने गुवाहाटी स्थित असम प्रदेश कांग्रेस के कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में बोलते हुए कहा कि जब से केंद्र में भाजपा सरकार आई है तब से देश में आटोमोबाइल सेक्टर, इंश्योरेंस कंप​नियों से लेकर टेलीकॉम जैसे क्षेत्रों की कंपनियां लगातार घाटे में चल रही है। देश में बचत में सात प्रतिशत तक की कमी आई है।

वर्तमान में राज्य सांसद बोरा ने यह भी कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान निवेश दर गिर गई है। लोगों के पास रोजगार नहीं है तथा आने वाले तीन महीनों के अंदर देश में लगभग 7 लाख युवा बेरोजगार हो जाएंगे।

हालांकि असम में कई कांग्रेस नेताओं द्वारा भाजपा में शामिल होने की बात पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि 'कांग्रेस पार्टी उन लोगों से किसी तरह की आपत्ति नहीं जो पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए हैं'। गौरतलब है कि हाल ही में पूर्व राज्यसभा सांसद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता भुबनेश्वर कालिता व सतीनुसे कुजूर तथा बराक वेली कांग्रेस नेता गौतम रॉय कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो चुके हैं। इससे पहले असम से राज्यसभा सांसद संजय सिंह भी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे।

बोरा ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र तथा राज्य में मौजूदा भाजपा सरकारें लोगों का ध्यान प्रमुख मुद्दों से भटका रही हैं।