भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने आयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के विरुद्ध जमीयत उलेमा-ए-हिंद की पुनर्विचार याचिका को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि उसने यह याचिका सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के दबाव में दायर की है, जो मुसलमानों के विचार को प्रदर्शित नहीं करता है।


हुसैन ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को इस मुद्दे पर पूरे देश के लोगों की राय जाननी चाहिए। उन्होंने कहा कि जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने यह याचिका सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के दबाव में दायर किया है, जो मुसलमानों के विचार को प्रदर्शित नहीं करता है। भाजपा प्रवक्ता ने दावा किया कि इस बार के विधानसभा चुनामें उनकी पार्टी झारखंड के 81 में से 65 से अधिक सीटें जीतेगी और राज्य में लगातार दूसरी बार सरकार बनेगी।


उन्होंने कहा कि प्रदेश में पिछले पांच साल से चल रहे विकास की गति अब धीमी नहीं होगी। हुसैन ने कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि इन दलों ने लोकसभा चुनाव से पहले भी बिहार और झारखंड में भी गठबंधन बनाया था लेकिन वे सभी जगह पराजित हुए। इसी तरह इस बार के झारखंड विधानसभा चुनाव में भी इन दलों ने गठबंधन बनाया है।


भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खूंटी और जमशदपुर की आज की रैली में उमड़ रहा जनसैलाब देखकर लगता है कि इस बार भाजपा 65 से अधिक सीटें अवश्य जीतेगी। झारखंड उन राज्यों में शामिल है, जहां की सरकार ने सभी सरकारी योजनाएं सफलतापूर्वक लागू कर दी है। हुसैन ने भाजपा में उनके और मुख्तार अब्बास नकवी के भाजपा का अल्पसंख्यक चेहरा होने से संबंधित सवाल के जवाब में कहा कि यह गलत धारणा है।


भाजपा का अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ सभी राजनीतिक दलों से अधिक मजबूत है। उन्होने कांग्रेस पर सत्ता पाने के लिए कुछ भी कर गुजरने का आरोप लगाते हुए कहा कि महाराष्ट्र विधानसभा में चौथे नंबर की कांग्रेस ने तीसरे नंबर की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के साथ मिलकर दूसरे नंबर की शिवसेना के उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बना दिया वहीं प्रथम स्थान पर रही भाजपा विपक्ष में है। भाजपा प्रवक्ता ने एक सवाल के जवाब कहा कि बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तहत भाजपा का गठबंधन लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) और जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के साथ है।


उन्होंने कहा कि बिहार में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में एक बार फिर राजग की सरकार बनेगी। उन्होंने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दे पर कहा कि इसे देश भर में लागू किया जाएगा और अब बंगलादेशियों को वापस भेजने का समय आ गया है।