लखनऊ। महाराष्ट्र में चल रहे लाउडस्पीकर विवाद के बीच यूपी सरकार ने एक बड़ी पहल की है। मुख्यमंत्री योगी के निर्देश के बाद धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर उतर गए हैं या फिर उनकी आवाज धीमी कर दी गई है। यूपी सरकार की ओर से मिली जानकारी के अनुसार 12 जिलों में हाईकोर्ट के निर्देशानुसार 6031 लाउडस्पीकर हटाये गए हैं। वहीं 29674 लाउडस्पीकरों की आवाज निर्धारित मानक के अनुसार कम की गई है।

GT vs SRH: राशिद खान और राहुल तेवतिया की ताबड़ोतड़ साझेदारी ने सनराइजर्स हैदराबाद को हराया, आखिरी ओवर में ठोक दिए चार छक्के

एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार का कहना है कि ध्वनि प्रदूषण को लेकर जारी निर्देशों का सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है। सरकार ने ऐसी जगहों की भी रिपोर्ट मांगी है जहां अब भी तेज आवाज में लाउडस्पीकर बजाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि सभी को धार्मिक स्वतंत्रता है, लेकिन माइक की आवाज धार्मिक परिसर के बाहर नहीं जानी चाहिए। उनके निर्देश के बाद ही गोरखनाथ मंदिर के लाउडस्पीकर की आवाज कम कर दी गई थी। प्रदेश के कई अन्य प्रमुख धार्मिक स्थलों में भी लाउडस्पीकर की आवाज धीमी कर दी गई है।

यह भी पढ़े : Love Horoscope 28 April : ये राशि वाले आज कर दें अपने प्यार का इजहार, इनकी अपने किसी खास से होगी मुलाकात

गृह विभाग ने अब ध्वनि प्रदूषण (विनियमन और नियंत्रण) नियम 2000 के प्रविधानों का कड़ाई से अनुपालन कराये जाने का निर्देश जारी किया है। साथ ही ऐसे धार्मिक स्थलों की थानावार सूची तलब की है, जहां इन निर्देशों का अनुपालन नहीं हो रहा है। हर जिले में इसकी सप्ताहिक समीक्षा कराने तथा मंडलायुक्तों व पुलिस आयुक्तों को 30 अप्रैल तक पहली अनुपालन आख्या शासन को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। ज्ञात हो कि हाल ही में ध्वनि प्रदूषण के मामले में उच्च न्यायालय द्वारा धार्मिक स्थलों से तेज आवाज के लाउडस्पीकर हटाने और छोटे लाउडस्पीकर से परिसर के अंदर ही आवाज सीमित रखने के आदेश दिए थे।