असमिया युवा दिलों की धड़कन माने जाने वाले सुप्रसिद्ध गायक जुबिन गर्ग नागरिकता कानून संशोधन विधेयक(कैब) के खिलाफ सोशल मीडिया के माध्यम से सामने आए हैं। शुक्रवार को वे कॉटन यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों के साथ मिलकर यहां रण हुंकार भरेंगे। जुबिन शुरू से ही कैब के खिलाफ आवाज बुलंद करते आए हैं। इसके पहले उन्होंने हाथों में जागिले असम बाचिबों देश ने होले होबो बांग्लादेश(असम के जगने पर देश बचेगा नहीं तो बांग्लादेश बन जाएगा) नारा लिखा प्ले कार्ड लेकर प्रदर्शन में भाग लिया था।

फेसबुक पर राज्य के लोगों को संबोधित करते हुए जुबिन ने कहा है-इस कैब पर भ्रम की अनुमति नहीं दी जाएगी, हम इसे स्वीकार नहीं करेंगे। किसी भी छात्र संगठन ने स्वीकार नहीं किया है, और हम भी स्वीकार नहीं करेंगे। मै एक छात्र नही हो सकता लेकिन, मैं अभी भी एक विद्यार्थी हूं। उन्होंने कहा कि सभी समुदायों के संगठनों को एक छतरी के नीचे एकत्र होकर प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय में होने वाले कैब विरोधी प्रदर्शन में शामिल होना चाहिए।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360