वरिष्ठ पत्रकार, साहित्यकार और शिक्षाविद् प्रफुल्ल राजगुरू के निधन पर मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, राज्यपाल प्रो. जगदीश मुखी, जर्नालिस्ट एसोसिएशन आॅफ असम (जा) समेत विभिन्न संगठनों व व्यक्तियों ने गहरा शोक व्यक्त किया है। आज यहां जारी एक शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि एकातंवादी राजगुरू ने जिस एकाग्रता से असमिया समाज में जो योगदान दिया, उसे हमेशा श्रद्धा के साथ स्मरण किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक सुंदर वक्ता के रूप में राजगुरू ने शिक्षा के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय योगदान दिया है।

उन्होंने राजगुरू के निधन को राज्य के लिए एक अपूरणीय क्षति बताया है। वहीं राज्यपाल ने अपने  संदेश में कहा है कि एक ईमानदार पत्रकार और ख्यातिप्राप्त शिक्षाविद्  के रूप में जाने वाले प्रफुल्ल राजगुरू ने राज्य के बौद्धिक संकाय के संवर्दध्न में अमुल्य योगदान दिया। वे एक प्रशंसित साहित्यकार तथा प्रखर वक्ता भी थे, जिन्होंने राज्य के साहित्य विकास में अमिट छाप छोड़ी।

उधर जर्नालिस्ट एसोसिएशन आॅफ असम और नेशनल यूनियन आॅफ जर्नालिस्ट इंडिया ने अपने संदेश में कहा है कि असम के पत्रकारिता जगत में राजगुरू के अवदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। सभी ने विदेही आत्मा की चिरशांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है।