पोस्‍ट ऑफिस की 9 सेविंग्स स्कीम्स में से एक बचत खाता भी है। पोस्‍ट ऑफिस में 500 रुपये में सेविंग्‍स अकाउंट खुल जाता है। हालांकि एक पोस्‍ट ऑफिस में एक ही बचत खाता खुलवा सकते हैं। पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट पर मिलने वाली बेसिक सर्विसेज के अलावा कुछ अतिरिक्त सर्विस भी मौजूद रहती हैं, जिनमें से एक एटीएम कार्ड की सुविधा भी है। डाकघर के बचत खाते पर अतिरिक्त सुविधाओं का फायदा लेने के लिए संबंधित डाकघर में फॉर्म भरकर जमा करना होता है। एटीएम कार्ड लेने के लिए भी ऐसा ही करना होगा। 

डेली ATM कैश विदड्रॉअल लिमिट- 25000 रुपये

कैश विदड्रॉअल लिमिट प्रति ट्रांजेक्शन- 10000 रुपये

डाक विभाग के एटीएम से ट्रांजेक्शन करने पर चार्ज- शून्य

दूसरे बैंकों के एटीएम से प्रति माह फ्री ट्रांजेक्शन की संख्या

मेट्रो शहर- 3 फ्री ट्रांजेक्शन (फाइनेंशियल व नॉन फाइनेंशियल)

नॉन मेट्रो शहर- 5 फ्री ट्रांजेक्शन (फाइनेंशियल व नॉन फाइनेंशियल)

दूसरे बैंकों के एटीएम से फ्री ट्रांजेक्शन की संख्या क्रॉस होने पर चार्ज- प्रति ट्रांजेक्शन 20 रुपये+ जीएसटी (फाइनेंशियल व नॉन फाइनेंशियल)।

इस वक्त पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट पर सालाना ब्याज दर 4 फीसदी है। इसे सिंगल या ज्वॉइंट में, 10 साल से अधिक उम्र के नाबालिग बच्चे के नाम पर, दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के लिए खुलवा सकते हैं। डाकघर की वेबसाइट के मुताबिक, दिमागी रूप से कमजोर/नाबालिग के खाते, जॉइंट ए अकाउंट और BO अकाउंट के मामले में एटीएम कार्ड जारी नहीं किया जाएगा।

बैंकों की तरह पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट में भी मिनिमम मंथली बैलेंस मेंटेन करना होता है। अकांउट के लिए मिनिमम बैलेंस 500 रुपये रखना तय है। मिनिमम बैलेंस बरकरार न रखने पर हर वित्त वर्ष के आखिरी दिन अकाउंट से 100 रुपये की मेंटीनेंस फीस काट ली जाएगी। फीस काटने के बाद अगर खाते में बैलेंस निल हो गया तो यह अपने आप बंद हो जाएगा। अकाउंट को एक्टिव रखने के लिए 3 वित्त वर्षों के अंदर कम से कम एक बार डिपॉजिट या विदड्रॉल करना जरूरी है।