त्रिपुरा के छह विधानसभा क्षेत्रों के छह मतदान केन्द्रों पर सोमवार सुबह 7 बजे से मतदान चल रहा है। सुबह 11 बजे तक 37.07 प्रतिशत वोटिंग हो चुकी है। हालांकि इन क्षेत्रों में सभी मतदान केंद्रो पर पुनर्मतदान कराने की किसी भी राजनीतिक दल ने मांग नहीं की है, लेकिन चुनाव आयोग ने गत 18 फरवरी को हुए चुनाव में मतदान के दस्तावेजों में विसंगतियां पाये जाने पर प्रदेश निर्वाचन अधिकारी श्रीराम तरणीकांत को इन जगहों पर पुनर्मतदान कराये जाने के निर्देश दिए थे।


निर्वाचन आयोग ने मुख्य चुनाव अधिकारी को सोनामुरा के बूथ संख्या 26, धानपुर के बूथ संख्या आठ, तेलाईमुरा के बूथ संख्या 45, सबरूम के बूथ संख्या 48, अंपिनगर के बूथ संख्या 37 और कदमतला-कुर्ति निर्वाचन क्षेत्र के बूथ संख्या नौ में फिर से मतदान कराने के आदेश दिए थे। बता दें कि धानपुर सीट के लिए मुख्यमंत्री माणिक सरकार एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष विप्लव कुमार चुनाव मैदान में हैं। चरियालम (सुरक्षित) सीट पर 12 मार्च को चुनाव होगा। इस सीट के लिए पूर्व निर्धारित चुनाव तिथि से पांच दिन पहले माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवार का निधन हो जाने के कारण चुनाव रद्द कर दिया गया था।

आयोग ने अपने आदेश में कहा था कि संबंधित मतदान केन्द्रों के इलाकों में इसका व्यापक प्रचार किया जाये और सभी राजनीतिक दलों को सूचित किया जाये तथा पुनर्मतदान के निर्णय के बारे में उम्मीदवारों को लिखित सूचना देना सुनिश्चित किया जाए। निर्वाचन आयोग ने कहा था कि आयोग ने पाया कि पीठासीन अधिकारियों ने कुछ मतदान केन्द्रों पर मतदान के दिन प्रदर्शन के बाद ईवीएम की नियंत्रण इकाई से रिकार्ड हटाये नहीं थे। आयोग ने संबंधित चुनाव अधिकारियों को यह भी आदेश दिया है यदि जीत का अंतर एक वोट से है तो चुनाव परिणाम आयोग की पूर्व सहमति के बिना घोषित नहीं किया जाए।
दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की त्रिपुरा इकाई के प्रमुख विप्लव देव ने दावा किया है कि पार्टी राज्य में भारी बहुमत से सरकार बनायेगी। देव ने धलाई जिले में पत्रकारों से कहा कि भाजपा जिले की सभी छह विधानसभा सीटों पर जीत हासिल करेगी। वह विधानसभा चुनाव के बाद धलाई जिले के पार्टी के सभी छह उम्मीदवारों के साथ बैठक करने के लिए यहां आये थे। उन्होंने कहा कि वह आश्वस्त हैं कि जिले में नयी शुरुआत होगी। राज्य में 18 फरवरी को चुनाव हुए थे और मतगणना तीन मार्च को होगी।