कोरोना वायरस को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन किया हुआ है। इस महामारी से बचने एकमात्र उपाय सोशल डिस्टेंसिंग है और सरकार लगातार जनता से लॉकडाउन का पालन करने की अपील कर रही है। इसी बीच RBI ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि करेंसी नोटो सें कोरोना वायरस फैलने का खतरा है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने एक वीडियो संदेश जारी किया है। उन्होंने इस महामारी से बचाव के लिए फिलहाल डिजिटल लेन-देन करने की अपील है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस देश के लिए हर तरह से बड़ा संकट है और बचाव ही एकमात्र उपाय है।




वीडियो में शक्तिकांत दास ने कहा है कि कोरोना वायरस की वजह से देश संकट के दौर से गुजर रहा है, ऐसे में लोग घर पर रहकर ही डिजिटल ट्रांजैक्शन करें। इसके लिए डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और मोबाइल ऐप के जरिये लेन-देन करें।

RBI गवर्नर ने कहा कि डिजिटल लेन-देन करें और सुरक्षित रहें. एक तरह से उन्होंने देश के लोगों को करेंसी में लेन-देन कम करने अपील की है। इसके लिए डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और मोबाइल ऐप के जरिये ट्रांजैक्शन की सलाह दी गई है।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस को रोकने के लिए देश में सभी तरह के उपाय किए जा रहे हैं। लॉकडाउन के बीच अगर लोग करेंसी का लेन-देन ज्यादा करेंगे तो एक-दूसरे के संपर्क में आए बिना यह संभव नहीं है और इससे कोरोना वायरस फैलने का डर बना रहेगा। ऐसे में डिजिटल लेनदेन बिल्कुल सुरक्षित है।
गौरतलब है कि कोरोना वायरस संकट से जूझ रहे लोगों को राहत देने के लिए आरबीआई ने इसी हफ्ते बड़ा ऐलान किया है। शक्तिकांत दास ने रेपो रेट में 0.75 फीसदी की कटौती का ऐलान किया है। इसके अलावा होम लोन और कार लोन के ग्राहकों को राहत देते हुए 3 महीने की ईएमआई बाद में भुगतान की सहूलियत दी है।