अगर आप पीएम किसान (PM Kisan) का लाभ उठाते हैं तो जरा सावधान हो जाएं। क्योंकि प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi) के नियमों को सरकार ने बदल दिया है। सरकार ने पीएम किसान योजना (PM Kisan scheme) में हो रहे फर्जीवाड़े के लिए राशन कार्ड को अनिवार्य कर दिया है। अब किसानों को अन्य डॉक्युमेंट्स के साथ राशन कार्ड (Ration card) भी देना होगा।

राशन कार्ड का नंबर आने के बाद ही पति या पत्‍नी या उस परिवार के किसी एक सदस्‍य को पीएम किसान सम्‍मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) योजना का लाभ मिलेगा। योजना के तहत अब नए पंजीकरण कराने पर राशन कार्ड नंबर देना अनिवार्य (Ration Card Mandatory) होगा। इसके अलावा दस्‍तावेज की सॉफ्ट कॉपी बनाकर पोर्टल पर अपलोड करनी होगी।

यदि आप पीएम किसान योजना के तहत पहली बार रजिस्ट्रेशन कराते हैं तो आवेदक को राशन कार्ड का नंबर अपलोड करना है। इसके अलावा पीडीएफ भी अपलोड करना होगा। अब खतौनी, आधार कार्ड, बैंक पासबुक और घोषणापत्र की हार्डकॉपी जमा करने की अनिवार्यता खत्‍म कर दी गई है। अब डॉक्‍यूमेंट्स की पीडीएफ फाइल बनाकर पोर्टल पर अपलोड करना होगा। इससे पीएम किसान योजना में होने वाला फर्जीवाड़ा कम हो जाएगा। इसके साथ ही रजिस्ट्रेशन पहले से आसान होगा।

सरकार ने पीएम किसान (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) योजना के तहत 10वीं किस्त जारी करने की तारीख बता दी है। किसान पहले से ही इस योजना में रजिस्ट्रेशन करा लें ताकि वह 10 वीं किश्त का फायदा उठा सकें। केंद्र सरकार 15 दिसंबर 2021 तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 10वीं किस्त जारी कर सकती है।