रमजान का पाक त्योहार शुरू हो गया है। 11 अप्रैल को चांद नजर नही आया तो कुछ लोग आज से रोजा शुरू कर रहे हैं और अगर आज चांद नजर नहीं आया तो कल से यानी 13 अप्रैल से रमजान का पहला रोजा माना जाएगा। इस्लामी कैलेंडर के मुताबिक नवां महीना रमजान का माना जाता है। मुस्लिम समुदाय के लिए रमजान माह का बहुत महत्व होता है। इस महिने में बरकतों, रहमतों का माना जाता है।


खुदा धरती पर इंसानों की खैरियत के लिए आते हैं। दुनिया भर में इस्लामिक लोग रमजान के पूरे महीने अल्लाह की इबादत करते हैं, नमाज अदा करते हैं और क़ुरआन की तिलावत करते हैं। चांद का दीदार करने के बाद रमजान के पवित्र महीने की शुरुआत होती है। लोगों को रमज़ान के चांद का खासा इंतजार करते है। सऊदी अरब में 11 अप्रैल को चांद नहीं देखा गया तो वहां 13 अप्रैल को पहला रोजा माना जाएगा।

जानकारी के लिए बता दें कि सऊदी अरब के सर्वोच्च न्यायालय की ओर से लोगों से रमजान का चांद देखने की अपील की गई थी, लेकिन चांद नहीं देखा गया तो अरब सुप्रीम कोर्ट की ओर से घोषणा की गई है कि चांद कहीं भी दिखाई नहीं दिया तो रोजा मानने से पहले एक बैठक आयोजित की जाएगी। सऊदी अरब में सऊदी अरब विश्वविद्यालय के खगोलीय वेधशाला के निदेशक अब्दुल्ला अल खजीरी ने कहा कि 11 अप्रैल को सभी अरब देशों में रमजान का चांद नहीं दिखा गया है।